RANCHI: कैथोलिक बिशप कान्फ्रेंस ऑफ इंडिया(सीबीसीआई) के महासचिव बिशप थियोडोर मैस्करेनहास ने इसाई एनजीओ की जांच का जिम्मा एंटी टेररिज्म स्क्वॉयड(एटीएस) को देने पर कड़ी आपत्ति जताई है. बिशप हाउस में प्रेस कान्फ्रेंस कर उन्होंने झारखंड सरकार को आड़े हाथों लिया है. कहा कि झारखंड में क्रिश्चियन कम्यूनिटी को बेवजह परेशान किया जा रहा है. सीबीआई और एटीएस से जांच कराकर हमें आतंकवादियों की श्रेणी में रखने का प्रयास किया जा रहा है, जो पूरी तरह से गलत है. उन्होंने कहा कि आये दिन जांच के नाम पर सीआईडी द्वारा एनजीओ को परेशान किया जा रहा है. अब तक 12 एनजीओ को नोटिस दिया जा चुका है, जबकि कई एनजीओ की जांच का जिम्मा एटीएस को दिया गया है. प्रेस कांफ्रेंस में मुख्य रूप ये बिशप डॉ. फेलिक्स टोप्पो, बिशप डॉ तेलिस्फोर बिलुंग, बिशप मरियापुस कुजुर मौजूद थे.

राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन, न्याय की गुहार

बिशप मरियनुस कुजूर ने बताया कि इस संबंध में रिजनल बिशप काउंसिल ने शुक्रवार को राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपा हैं, जिसमें न्याय की गुहार लगाई गई है. उन्होंने कहा कि हम साल दर साल रिटर्न फाईल करते हैं और रजिस्टर्ड सोसाइटी वार्षिक रूप से अपना इनकम टैक्स फाईल करती हैं, तो फिर क्यों क्रिश्चियन मिशनरीज को परेशान किया जा रहा है.