अपने इंटरेस्ट का कोर्स चुनकर अचीव करें गोल

career@inext.co.in

KANPUR : इंटरमीडिएट में किसी स्टूडेंट ने आट्र्स, साइंस या फिर कॉमर्स में से चाहे जो भी स्ट्रीम चुनी हो, पर इसके बाद आमतौर पर उसके पास दो मुख्य विकल्प होते हैं: एकेडमिक्स और प्रोफेशनल कोर्स. अब कोई स्टूडेंट इन दो विकल्पों में से किसका चयन करता है, यह करियर को लेकर उसकी प्रायॉरिटीज, कोर-कॉम्पीटेंसीज, स्किल्स, इंटरेस्ट और उसके गोल पर डिपेंड करता है. मसलन- जिन स्टूडेंट्स को टीचिंग और रिसर्च जैसी फील्ड्स में इंटरेस्ट हो, उन्हें एकेडमिक्स लाइन में जाना चाहिए जबकि जो एक स्किल्ड प्रोफेशनल के तौर पर किसी स्पेसिफिक फील्ड में काम करने के इच्छुक हों, उन्हें प्रोफेशनल कोर्सेज ऑप्ट करने चाहिए. एकेडमिक्स और प्रोफेशनल कोर्सेज के अलवा स्टूडेंट्स के पास गवर्नमेंट एग्जाम्स या प्रोफेशनल ट्रेनिंग लेने का भी विकल्प होता है, जिसके बाद उन्हें सीधे उस सेक्टर में जॉब मिल जाती है। एक्सपट्र्स से बात करके हम स्टूडेंट्स के लिए सभी ऑप्शन्स की डीटेल्स दे रहे हैं, जिन्हें जानकर आप अपने लिए एप्रोप्रिएट डिसीजन ले सकते हैं...

शानदार स्कोप वाली स्ट्रीम है साइंस

साइंस स्ट्रीम दो मेन ग्रुप्स पीसीबी और पीसीएम में बंटी है। हालांकि अब बहुत से स्कूल्स स्टूडेंट्स को पीसीएमबी, बायोटेक्नोलॉजी या कंप्यूटर्स जैसे सब्जेक्ट्स भी ऑफर करते हैं, जिससे इस फील्ड में कोर्सेज की वैराइटी बढ़ी है। शायद इसीलिए स्टूडेंट्स के सामने एप्रोप्रिएट कोर्स सेलेक्ट करना चैलेंजिंग है। ऐसे में स्टूडेंट्स को सिर्फ अपने इंटरेस्ट पर फोकस करना चाहिए।

cbse 12वीं का रिजल्‍ट तो आ ही गया समझो,उसके बाद काम आएंगे ये बेस्‍ट करियर ऑप्‍शन

1. एकेडमिक्स

अगर कन्वेंशनल अंडरग्रेजुएट कोर्स की बात करें, तो स्टूडेंट्स पीसीएम या जेडबीसी ग्रुप से बीएससी कर सकते हैं। वहीं कुछ अलग करने की चाह हो, तो स्टूडेंट्स को साइंस की किसी स्पेशलाइज्ड ब्रांच से अंडरग्रेजुएट कोर्स करना चाहिए। ऐसे कोर्सेज रिसर्च में हेल्पफुल होते हैं।

पॉपुलर सब्जेक्ट्स

- एग्रीकल्चर

- बायोटेक्नोलॉजी

- फॉरेंसिक साइंस

- कंप्यूटर साइंस

- फिजिक्स

- केमिस्ट्री

- बॉटनी

- जूलॉजी

- मैथ्स

- बायोकेमिस्ट्री

2. प्रोफेशनल कोर्सेज

अगर आपने इंजीनियर या डॉक्टर बनने के लिए साइंस स्ट्रीम ली है, तो आपको जेईई मेन्स व नीट एग्जाम सहित दूसरे इंजीनियरिंग व मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम्स देने चाहिए। जिन स्टूडेंट्स को इन एग्जाम्स में मनचाही सफलता नहीं मिलती, वे पैरामेडिकल कोर्सेज या फिर कंप्यूटर एप्लिकेशन्स से रिलेटेड कोर्सेज करके इस फील्ड से जुड़ सकते हैं।

पॉपुलर कोर्सेज

- एमबीबीएस

- बीडीएस

- बी फार्मा

- बीएचएमएस

- इंजीनियरिंग

- बीसीए

- बीआर्क

- बीएफटेक

कॉमर्स के कोर्सेज हैं हाइली इंप्लॉयबल

कॉमर्स एक ऐसी स्ट्रीम है, जिसके एकेडमिक और प्रोफेशनल दोनों ही कोर्सेज के फ्यूचर प्रॉस्पेक्ट्स बेहतरीन हैं। यही नहीं, इसमें स्टूडेंट्स एकेडमिक कोर्स करने के साथ-साथ प्रोफेशनल कोर्स भी कर सकते हैं।

1. एकेडमिक्स

एकेडमिक कोर्सेज की बात करें, तो स्टूडेंट्स बीकॉम, बीकॉम ऑनर्स, बैचलर इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (बीबीए), बैचलर ऑफ बिजनेस स्टडीज (बीबीएस), बैचलर इन एकाउंटिंग एंड फाइनेंस (बीएएफ) और बीए इकोनॉमिक्स का कोर्स कर सकते हैं। जहां बीकॉम सिंपल ग्रेजुएट कोर्स है, वहीं बाकी सभी स्पेशलाइज्ड अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्सेज हैं। यह सभी कोर्सेज तीन साल के हैं।

2. प्रोफेशनल कोर्सेज

प्रोफेशनल कोर्सेज जॉब ओरियेंटेड तो हैं ही साथ ही स्टूडेंट्स के अंदर इंडस्ट्री में काम करने की एक्पर्टीज भी डेवलप करते हैं। इन्हें अंडरग्रेजुएट कोर्सेज के साथ भी परस्यू किया जा सकता है। जो स्टूडेंट्स कॉर्पोरेट, बैंकिंग, टैक्सेशन या बिजनेस सेक्टर में एक प्रोफेशनल की तरह खुद को देखते हैं, वे इन्हें ऑप्ट कर सकते हैं। हालांकि ग्लोबल स्टैंडड्र्स के अनुसार डिजाइन किए गए इन कोर्सेज को कंप्लीट करना आसान नहीं है, लेकिन हार्डवर्क के जरिए इन कोर्सेज के अलग-अलग लेवल्स को क्वॉलिफाई किया जा सकता है।

cbse 12वीं का रिजल्‍ट तो आ ही गया समझो,उसके बाद काम आएंगे ये बेस्‍ट करियर ऑप्‍शन

पॉपुलर कोर्सेज

- कंपनी सेक्रेट्री (सीएस)

- चार्टर्ड एकाउंटेंसी (सीए)

- चार्टर्ड फाइनेंशियल एनालिस्ट

- सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर

- कॉस्ट मैनेजमेंट एकाउंटिंग

ह्यूमैनिटीज की बढ़ रही है पॉपुलैरिटी

ह्यूमैनिटीज में आप कितने सक्सेसफुल होते हैं, यह आपके द्वारा चुने हुए सब्जेक्ट कॉम्बिनेशन पर डिपेंड करता है। आप चाहें तो ग्रेजुएशन के बाद अपने टैलेंट या स्किल्स के मुताबिक प्रोफेशनल कोर्स में मास्टर्स भी कर सकते हैं।

1. एकेडमिक्स

इस स्ट्रीम में आप सिंपल बीए या फिर बीए ऑनर्स का कोर्स कर सकते हैं। जहां सिंपल बीए में स्टूडेंट्स को किन्हीं तीन सब्जेक्ट्स का चयन करना होता है, वहीं ऑनर्स में किसी एक सब्जेक्ट की स्पेशलाइज्ड स्टडी करवाई जाती है।

पॉपुलर सब्जेक्ट्स

- फिलॉसफी

- इकोनॉमिक्स

- ज्योग्राफी

- हिस्ट्री

- पॉलिटिकल साइंस

- सोशियोलॉजी

- इंग्लिश लिट्रेचर

- साइकोलॉजी

- संस्कृत

- हिंदी

2. प्रोफेशनल कोर्सेज

वैसे तो इस स्ट्रीम के लिए कोई स्पेसिफिक प्रोफेशनल कोर्स नहीं होता, लेकिन जो स्टूडेंट्स टैलेंटेड हैं या जिनका इंटरेस्ट किसी स्पेसिफिक इंडस्ट्री की ओर है, उनके लिए बहुत से ऑप्शन्स हैं। ऐसे स्टूडेंट्स प्रोफेशनल कोर्सेज में अंडरग्रेजुएट या फिर पोस्ट ग्रेजुएट दोनों ही कोर्स कर सकते हैं।

पॉपुलर कोर्सेज

- फैशन डिजाइनिंग

- होटल मैनेजमेंट

- इवेंट मैनेजमेंट

- लीगल स्टडीज

- मास कम्युनिकेशन

- एक्टिंग या फिल्म एंड टीवी प्रोडक्शन

- एनिमेशन एंड गेम डिजाइनिंग

इन एग्जाम्स से मिलेगी करियर को एक नई दिशा

ऐसी कई प्रोफेशनल ट्रेनिंग्स और गवर्नमेंट एग्जाम्स हैं, जिनमें अपियर होकर आप एक सेक्योर जॉब पा सकते हैं। यह ऑप्शन उन स्टूडेंट्स के लिए परफेक्ट है, जिनका गोल इससे मैच करता है या फिर जो स्कूल के बाद सीधे जॉब करना चाहते हैं। जानते हैं ऐसे ही कुछ ऑप्शन्स के बारे में।

1. नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए)

डिफेंस सेक्टर में जाने के लिए स्टूडेंट्स को एनडीए एग्जाम क्लियर करना होगा। यह एग्जाम साल में दो बार होता है, जिसमें रिटेन टेस्ट और एसएसबी इंटरव्यू शामिल है। एग्जाम क्वॉलिफाई करने के बाद स्टूडेंट्स आर्मी, एयरफोर्स या नेवी में से कोई एक ब्रांच चुन सकते हैं। हालांकि एयरफोर्स और नेवी ब्रांच सिर्फ उन स्टूडेंट्स को मिलती है, जिनके पास इंटर में पीसीएम ग्रुप होता है। वहीं आर्मी ब्रांच सभी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स ले सकते हैं। इसके अलावा स्टूडेंट्स टेक्निकल इंट्री स्कीम, नेवी आर्टिफिसर एपरेंटिस और एयरफोर्स एक्स व वाई ग्रुप के जरिए भी डिफेंस में जा सकते हैं।

2. मर्चेंट नेवी

कमर्शियल पर्पज से नेवी में जाने के लिए मर्चेंट नेवी सबसे बेस्ट ऑप्शन है। आप अलग-अलग इंस्टीट्यूट्स से मर्चेंट नेवी का कोर्स कर सकते हैं। इसके लिए भी इंटर में पीसीएम ग्रुप होना जरूरी है।

3. कमर्शियल पायलट ट्रेनिंग

पायलट बनने के लिए स्टूडेंट्स के पास इंटर में पीसीएम ग्रुप होना जरूरी है। ऐसे स्टूडेंट्स फ्लाइंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट्स से पायलट ट्रेनिंग ले सकते हैं, जिसके बाद उन्हें डीजीसीए द्वारा कंडक्ट कराया जाने वाला पायलट लाइसेंसिंग एग्जाम देना होता है। इसे पास करने पर उन्हें फ्लाइंग लाइसेंस दिया जाता है।

4. कंबाइन्ड हायर सेकेंड्री लेवल एग्जाम (सीएचएसएल)

इंटर के बाद सेंट्रल गवर्नमेंट जॉब करनी हो, तो सीएचएसएल एग्जाम में अपियर हों। यह एग्जाम किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स दे सकते हैं। इसके जरिए लोअर डिवीजन क्लर्क, पोस्टल असिस्टेंट, कोर्ट क्लर्क व डीईओ जैसी पोस्ट्स फिल की जाती हैं। यह एग्जाम दो पाट्र्स में होता है, जिसमें रिटेन टेस्ट व टाइपिंग/कंप्यूटर स्किल टेस्ट शामिल है।

cbse 12वीं का रिजल्‍ट तो आ ही गया समझो,उसके बाद काम आएंगे ये बेस्‍ट करियर ऑप्‍शन

12वीं के बाद क्या? जानिए हर सवाल का जवाब :

क्लास 12 के बाद जहां स्टूडेंट्स के पास कोर्सेज के कई ऑप्शन्स होते हैं, वहीं अपने लिए सही कोर्स चुनने का प्रेशर भी बहुत होता है। ऐसे में कई स्टूडेंट्स पीयर प्रेशर या पैरेंटल प्रेशर के चलते गलत डिसीजन ले लेते हैं, जिससे उनका पूरा करियर एफेक्ट हो जाता है। अगर आपने भी इस साल इंटर के बोर्ड एग्जाम्स दिए हैं, तो आप यहां दी गई क्वेरीज की हेल्प से अलग-अलग कोर्सेज से जुड़े अपने कन्फ्यूजन्स दूर कर सकते हैं...

मैंने कॉमर्स स्ट्रीम से क्लास 12 पास किया है। मैं मार्केटिंग और सेल्स से एमबीए करना चाहता हूं। मैं कन्फ्यूज हो रहा हूं कि मुझे बीबीए करना चाहिए या बीकॉम? - नमन जयसवाल

आपके लिए बीबीए करना बेहतर रहेगा। यह एमबीए के सारे सब्जेक्ट्स से आपको अवगत भी कराएगा, साथ ही साथ आपके करियर प्रॉस्पेक्ट्स के लिए भी अच्छा रहेगा। अगर आपको फाइनेंस में स्पेशलाइजेशन करनी होती, तो मैं आपको बी।कॉम करने की सलाह देता, क्योंकि इससे आपके फाइनेंस के फंडामेंटल और स्ट्रॉन्ग हो जाते।

मेरा भाई अभी पीसीएम ग्रुप से इंटर कर रहा है। वह एथिकल हैकर बनना चाहता है। उसे समझ नहीं आ रहा है कि यह कोर्स सर्टिफिकेट बेसिस पर करना ठीक रहेगा या डिग्री कोर्स और उसे यह कोर्स कहां से करना चाहिए? प्लीज गाइड कीजिए। - नेहाली सिमन

आप अपने भाई को कंप्यूटर साइंस में बी।टेक करने को कहें। इससे उसके फंडामेंटल स्ट्रॉन्ग होंगे साथ ही साथ, वो ऑनलाइन ओपन कोर्सेज करके, जो कि स्टैनफोर्ड जैसी यूनिवर्सिटीज ऑफर करती हैं, अपने स्किल सेट्स को बढ़ा सकता है। एथिकल हैकिंग एक स्पेशलाइज्ड फील्ड है। इसके लिए फंडामेंटल स्ट्रांग होने बहुत जरूरी हैं। टेक्नोलॉजी चेंज के चलते, उसको नई टेक्नोलॉजीज से अवगत रहने की जरूरत होगी। डिग्री कोर्स के साथ वो इनपर फोकस करके इस फील्ड में अच्छा करियर बना सकता है।

मैंने क्लास 12 के बोर्ड एग्जाम्स दिए हैं। मैं बी।आर्क में एडमिशन लेना चाहता हूं। मुझे इसका प्रोसीजर बताएं। - शोएब अख्तर

आप स्कूल ऑफ प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर, आईआईटी, सीईपीटी यूनिवर्सिटी, जैसे इंस्टीट्यूट्स से बी।आर्क कर सकते हैं। इसके लिए आपको एनएटीए एग्जाम में अपियर होना होगा। आईआईटी में एडमिशन के लिए आपको जेईई एग्जाम क्वॉलिफाई करना होगा। हर कॉलेज या इंस्टीट्यूट का अपना प्रोसीजर होता है, इसके लिए आपको इंडिविजुअल कॉलेज की वेबसाइट पर जाकर जानकारी लेनी होगी। अगर आप वो क्राइटेरिया मैच करते हैं, तो मेरिट स्कोर और काउंसलिंग के बाद इन कॉलेजेस में एनरोल हो सकते हैं।

मैंने इस साल पीसीएम ग्रुप से क्लास 12 का एग्जाम दिया है। मैं आगे सीबीआई ब्रांच में जॉब कराना चाहता हूं। मैं क्या करूं? किस कोर्स में एडमिशन लूं? प्लीज गाइड करें। - अजय तिवारी

सीबीआई में आप या तो आईपीएस बनकर पोस्टिंग ले सकते हैं, या ग्रेजुएशन के बाद सीबीआई द्वारा निकाली जाने वाली वैकेंसीज के एग्जाम में अपियर होकर इसमें भर्ती हो सकते हैं। इसके लिए पहले आप अपने इंटरेस्ट के सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन करें। उसके बाद सिविल सर्विसेज एग्जाम की तैयारी करें और उसे क्वॉलिफाई करें। साथ ही साथ जनरल स्टडीज और करेंट अफेयर्स से अप टू डेट रहें। इसके अलावा सीबीआई में निकलने वाली पोस्ट्स के लिए एग्जाम में अपियर हों। इन वैकेंसीज की इनफॉर्मेशन आपको इंप्लॉयमेंट न्यूज में मिल जाएगी। पहले अच्छे से ग्रेजुएशन करें और ग्रेजुएशन के दौरान इसकी तैयारी करते रहें। आप चाहें तो एक अच्छी टेस्ट सीरीज ज्वॉइन कर आन्सर राइटिंग पर फोकस कर सकते हैं।

मैंने अभी इंटर पास किया है। मैं बी।कॉम के बाद क्या कर सकती हूं? - सोनू तोलानी

आप बी।कॉम के बाद एकाउंटिंग में करियर बना सकती है। इसके लिए आप सीए का एग्जाम दे सकती हैं। अगर आपको मैनेजमेंट में इंटरेस्ट है, तो आप एमबीए कर अपने इंटरेस्ट के सब्जेक्ट में स्पेशलाइजेशन कर उस एरिया में अपना करियर बना सकती हैं। आप बैंकिंग या फिर इंश्योरेंस सेक्टर में भी काम कर सकती हैं। पहले आप यह सोचें कि आप किस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहती हैं। चूंकि आपका सब्जेक्ट बी।कॉम है, मैं आपको सजेस्ट करूंगा कि आप एकाउंटिंग या मैनेजमेंट में अपना करियर बनाने के बारे में सोचें।

मैं आरजे बनना चाहती हूं। अभी मैंने पीसीएम ग्रुप से इंटर पास किया है। मुझे अब क्या करना चाहिए? कृपया विस्तार से समझाइए। - दिशा वाधवानी

अच्छा आरजे बनने के लिए आपकी वॉयस क्वॉलिटी यूनिक होनी चाहिए, साथ ही साथ आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स और पीपुल इंटरेक्शन भी अच्छा होना चाहिए। इसके लिए बहुत से रेडियो चैनल कॉम्पटीशन करते रहते हैं। इन कॉम्पटीशन में पार्टिसिपेट करके आपको अपने एरियाज ऑफ इंप्रूवमेंट के बारे में पता चलेगा, या आपको वो डायरेक्टली हायर भी कर सकते हैं। मैं आपको सजेस्ट करूंगा कि आप मासकॉम कोर्स ज्वॉइन करके, इन कॉम्पटीशन्स में पार्टिसिपेट करती रहें। साथ ही साथ ऑनलाइन ओपन कोर्सेज भी करती रहें। ग्रेजुएशन के दौरान अपनी कम्युनिकेशन स्किल्स पर वर्क करें। इससे आपके और विकल्प भी ओपन रहेंगे, साथ ही साथ आपको यह भी पता चलेगा कि आपका एप्टीट्यूड आरजे बनने के लिए है या नहीं।

मैंने इस साल क्लास 12 का एग्जाम दिया है और मेरा सब्जेक्ट पीसीबी है। मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं आगे क्या करूं। प्लीज बताएं। - मनीषा यादव

इंटर के बाद आपके पास सारे विकल्प मौजूद हैं। सोचने की बात यह है कि आप आगे किस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहती हैं। डॉक्टर एक नेचुरल ऑप्शन है। आप बॉटनी या जूलॉजी में ग्रेजुएशन कर साइंटिस्ट या रिसर्चर भी बन सकती हैं। अगर आप कन्फ्यूज्ड हैं, तो थोड़ा टाइम लेकर सोचें और फिर निर्णय लें कि आपको किस तरह की जिंदगी जीनी है। अपने आस-पास अगर आप किसी से इंस्पायर्ड हैं या उनकी लाइफ आपको अच्छी लगती है, तो आप उनका करियर ऑप्शन चूज कर सकती हैं। एक बार आपको यह पता चल जाए फिर उसी अनुसार गोल बनाएं और उसे पूरे मोटिवेशन के साथ प्राप्त करने की कोशिश करें।

मैंने इस साल कॉमर्स से इंटर का एग्जाम दिया है। आगे मैं क्या करूं, बैंकिंग या आईटीआई?- रिकी

यह आपके इंटरेस्ट पर डिपेंड करता है। बैंकिंग आपको फाइनेंस के क्षेत्र में करियर बनाने का ऑप्शन प्रोवाइड करता है, और आप बैंकर के रूप में करियर बना सकते हैं। बैंकिंग में काम करने के काफी पक्र्स हैं, जैसे कि लोन कम इंटरेस्ट रेट पर मिलना इत्यादि। आईटीआई के अपने चैलेंजेज एंड पक्र्स हैं। चूंकि आपने बी।कॉम किया है, तो मैं आपको सजेस्ट करूंगा कि आप बैंकिंग में करियर बनाएं यह आपके लिए ज्यादा अच्छा ऑप्शन रहेगा।

मैं क्लास 12 में पढ़ रही हूं और मेरे सब्जेक्ट्स पीसीएम व कंप्यूटर हैं। मैं आगे लॉ के क्षेत्र में कुछ करना चाहती हूं। मैंने पीसीएम इसलिए ली क्योंकि मेरे पेरेंट्स और टीचर्स ने मुझे प्रेशराइज किया कि क्लास 11 व 12 में सबको साइंस लेनी चाहिए। उस समय मुझे केमिस्ट्री में इंटरेस्ट था। मुझे अब क्या करना चाहिए? - वंशिता श्रीवास्तव

आप इंटर के बाद क्लैट का एग्जाम दें। यह एग्जाम क्वॉलिफाई करके आप देश के टॉप लॉ स्कूल्स से एलएलबी कोर्स कर सकती हैं। क्लैट के साथ आप बाकी यूनिवर्सिटीज में भी एलएलबी के लिए अप्लाई करें। अगर आपका इंटरेस्ट लॉयर या जज बनने में है, तो आप इसे जरूर पस्र्यू करें। जज बनने के लिए आपको एलएलबी के बाद पीसीएस-जे एग्जाम क्वॉलिफाई करना होगा। अपने पेरेंट्स को अपने कन्विक्शन के बारे में बताएं और उन्हें कन्विंस करें।

मैंने पीसीबी से 2016 में इंटर किया है, जिसमें मेरे माक्र्स 90 परसेंट हैं। मैं डीयू से बीएससी करना चाहता हूं। प्लीज बताएं कि डीयू में एडमिशन का क्या प्रॉसेस है और बीएससी के लिए बेस्ट ऑफ 4 माक्र्स काउंट करते हैं या बेस्ट ऑफ 3? - सी. तिवारी

डीयू में एडमिशन के लिए आप ऑनलाइन फॉर्म भरकर अप्लाई कर सकते हैं या कैंपस जाकर भी फॉर्म सबमिट कर सकते हैंफ। डीटेल्ड इंफॉर्मेशन के लिए http://www.du.ac.in पर जाएं। इसमें आपका सिलेक्शन एग्रीगेट ऑफ 3 सब्जेक्ट्स के बेसिस पर होता है।

मैंने जेईई मेन्स एग्जाम दिया, लेकिन इसे क्वॉलिफाई करने पर मुझे संदेह है। हालांकि इंटर में अच्छे माक्र्स आने को लेकर मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं। अपने बोर्ड एग्जाम्स से पहले तक मैं बीटेक करने के बारे में सोचता था, लेकिन प्राइवेट इंस्टीट्यूट्स से नहीं। हालांकि अब मैं बीएससी करने के बारे में सोच रहा हूं। आपकी राय में मुझे क्या करना चाहिए? बीटेक या बीएससी में क्या बेहतर है? - पवन कुमार मौर्य

ऐसा कुछ नहीं है कि बी।टेक बेहतर है या बीएससी। हां, यह जरूर है कि लोगों को लगता है कि बी।टेक करने के बाद जॉब प्रॉस्पेक्ट्स बेटर हो जाते हैं। लेकिन हर फील्ड में अच्छा करियर बनाया जा सकता है। सबकुछ आपके इंटरेस्ट पर निर्भर करता है। मुझे नहीं पता कि आप बी।टेक सिर्फ इसलिए करना चाहते थे क्योंकि सब करते हैं या आपको एक अच्छा इंजीनियर बनना है। अगर उद्देश्य एक अच्छा इंजीनियर बनना है, तो आप बी।टेक करें, नहीं तो थोड़ा सोच-विचार करके अपने चॉयस ऑफ करियर से रिलेटेड ग्रेजुएशन करें। आप बीएससी करके साइंस और रिसर्च में करियर बना सकते हैं या फिर गवर्नमेंट और अन्य प्राइवेट जॉब्स भी कर सकते हैं इसलिए ऑप्शन आपके पास बहुत सारे हैं। यह जानना आपके लिए बहुत जरूरी है कि आप किस फील्ड में इंटरेस्ट रखते हैं और उसी अनुसार उस फील्ड में अपना करियर बनाएं।

मैं पीसीएम से क्लास 12 की स्टूडेंट हूं और इसके बाद आईआईएम से कोर्स करना चाहती हूं। मैं इसमें कराए जाने वाले कोर्सेज और करियर ऑप्शन्स के बारे में जानना चाहती हूं। - निकिता कुमारी, वाराणसी

आईआईएम इंदौर जैसे इंस्टीट्यूट्स आपको ऑप्शन देते हैं, क्लास 12 के बाद इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट प्रोग्राम करने का। इसके लिए आपके 12 में माक्र्स 60 परसेंट से ज्यादा होने चाहिए। इसके लिए आपको आईपीमैट एग्जाम देना होगा। इसमें आपसे क्वॉन्ट और वर्बल एबिलिटी पर क्वेश्चन्स पूछे जाते हैं। इस एग्जाम को क्लियर करके आप इस प्रोग्राम में एडमिशन ले सकती हैं। आपको आईआईएम इंदौर की वेबसाइट पर सारी जानकारी मिल जाएगी। दूसरा, आप ग्रेजुएशन करने के बाद कैट एग्जाम क्वॉलिफाई करके देश के अलग-अलग शहरों में मौजूद आईआईएम से एमबीए कर सकती हैं।

मैं यूपी बोर्ड से क्लास 12 का स्टूडेंट हूं। मैं पीसीएम ग्रुप से पढ़ाई कर रहा हूं। इसके बाद आईएएस की तैयारी करना चाहता हंू। इसके लिए ग्रेजुएट होना आवश्यक है क्या? इंटर के बाद इसकी तैयारी कर सकता हूं? - विवेक कुमार

आईएएस एग्जाम की तैयारी आप इंटर के बाद भी कर सकते हैं, लेकिन एग्जाम में अपीयर होने के लिए आपका ग्रेजुएट होना जरूरी है। आप अपने इंटरेस्ट की फील्ड में ग्रेजुएशन करें और साथ में इसकी प्रिपरेशन भी करते रहें। इसके लिए जनरल सब्जेक्ट्स पढ़ें और करेंट अफेयर्स पर ध्यान दें। आईएएस के एग्जाम में स्टूडेंट्स को ऑप्शनल सब्जेक्ट भी लेना पड़ता है। आप चाहें तो ग्रेजुएशन का ही कोई सब्जेक्ट चूज कर सकते हैं। ग्रेजुएशन फाइनल ईयर में आईएएस की अच्छी टेस्ट सीरीज ज्वॉइन कर आंसर राइटिंग पर फोकस करें। इसके साथ करेंट अफेयर्स की प्रिपरेशन भी करती रहें।

National News inextlive from India News Desk