jamshedpur@inext.co.in

JAMSHEDPUR : ट्रेनों की सुरक्षा अब तीसरी आंख से होगी. जी हां, जल्द ही टाटानगर से खुलने वाली ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. ऐसा यात्रियों के सुरक्षा के लिए किया जा रहा है. ट्रेनों में आए दिन चोरी छिनतई की घटनाएं होती रहती हैं. इसको देखते हुए रेलवे ने यह फैसला लिया है. कैमरा सारे कोचों के साथ इंजन में भी लगया जाएगा, जिससे इंजन से ट्रेन की सारी गतिविधियों की मॉनिटरिंग की जा सके.


एक कोच में 10 कैमरे

ट्रेन के एक कोच में करीब 10 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. इसमें दो कैमरा कोच के चारों गेट के सामने और बाकी कैमरे कोच के बीच में लगाए जाएंगे. इन कैमरों से कोच में होनीवाली वारदातों, चोरी, छिन्तई पर लगाम लगाया जा सकेगा.


इंजन में चार कैमरे

ट्रेन के इंजन में चार कैमरे लगाए जाएंगे. सीनियर रेलवे पीआरओ भास्कर ने बताया की इंजन में कैमरे लगे होने से किसी दुघर्टना के कारण का पता लगया जा सकता है तथा दुघर्टना को टाला जा सकता है. इंजन में एक कैमरे को इंजन के आगे लगाया जाएगा जो रेलवे लाइन पर नजर रखेगा और एक कैमरा इंजन के दाईं ओर व एक कैमरा इंजन के बाईं ओर लगाया जाएगा, जिससे लोको पायलट आसानी से पीछे की ओर देख सके. एक कैमरा इंजन के अंदर लगाया जाएगा, जिससे लोको पायलट की हरकत तथा अवाज का पता चल सके. इंजन में एक कंप्यूटर और एक माइक भी लगा होगा. उन्होंने बताया कि कुल 10 हजार इंजनों में सीसीटीवी कैमरा लगाने की बात चल रही है.


मिल रही ट्रेनिंग

यह सिस्टम लागू करने के लिए टाटानगर में टेक्नीशियनों को लोको में इंजनों तथा कोच में कैमरे लगाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. रेलवे यह पहल दुर्घटना टालने और इसका कारण जानने के लिए शुरू कर रही है. रेलवे के इंजीनियरों इसका सफल ट्रायल भी कर लिया है.

इसके लिए पूरी तैयारी चल रही है. टेक्निशियन्स को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. इससे ट्रेनों में होने वाली दुघर्टना होने के कारण का पता चलेगा तथा इस पर रोक भी लगाई जाएगी. कोच में सीसीटीवी कैमरे के लगने से चोरी जैसी वारदातों में कमी आएगी.

-भास्कर, सीनियर पीआरओ, चक्रधरपुर रेल मंडल