सीसीटीवी के जाल पर अब नहीं पुलिस की नजर

खराब होने के बाद भी ठीक नहीं हो रहे कैमरे

चौराहों पर कई बार सीसीटीवी ने की है पुलिस की मदद

आगरा. शुरुआत में जिस तरह पुलिस ने सिटी में सीसीटीवी कैमरों का जाल बिछाया था लेकिन अब पुलिस इन कैमरों का रख रखाव करना भूल गई है. कई जगह कैमरों के डायरेक्शन बदल गए हैं तो कहीं कैमरों के तार टूट गए हैं लेकिन उन्हें ठीक करने वाला कोई नहीं है. ऐसे में यदि को वारदात कर कैमरों के आगे से निकल जाए तो पुलिस फुटेज कहां से जुटाएगी.

तूफान में टूट गए थे तार

एसएन इमरजेंसी के सामने पोल पर दो सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं. चार महीने पहले आए तूफान में कैमरों के तार टूट गए. इसके बाद तार वहीं की वहीं लपेट दिए गए लेकिन कैमरों को ठीक नहीं किया गया. कई दिन बीत जाने पर भी कैमरों की स्थिति वहीं है लेकिन किसी ने भी ठीक करने की सुध नहीं ली.

चौकी की सुनवाई भी नहीं हुई

कैमरों की स्थिति को लेकर वायर लैस के माध्यम से अवगत कराया गया लेकिन इसके बाद भी कैमरा ठीक नहीं किया गया. इमरजेंसी के सामने लगे कैमरे मात्र शो पीस बने हुए हैं. कई बार ऐसे वाहन वहां से निकलते हैं जो कोई घटना कर आ रहे होते हैं लेकिन कैमरा न चलने के चलते फुटेज रिकॉर्ड नहीं हो पाती.

रखरखाव में भारी कमी

शहर में अधिकतर चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं. लेकिन इन कैमरों को चेक नहीं किया जाता. कैमरों के आगे जमीं धूल महीनों से साफ नहीं हुई है. सभी कैमरों के सर्वर थानों और चौकीयों में लगे हैं. लेकिन पुलिस देखरेख की जहमत नहीं उठाती.

डायरेक्शन हो गए चेंज

कई चौराहे ऐसे हैं जहां पर कैमरों के डायरेक्शन चेंज हो गए हैं. कैमरों को जहां कवर करना चाहिए वहां पर कवर नहीं कर रहा है. आंधी में कई कैमरों के डायरेक्शन बदल गए लेकिन ठीक नहीं किए गए. हरीपर्वत चौराहे पर लगे सीसीटीवी कैमरों का सर्वर थाने पर नहीं है. पुलिस का कहना है कि वहां पर कोई कैमरा लगा ही नहीं है.