होंशु द्वीप पर आया भूकंप
अमेरिकी भू-वैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग और जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी के अनुसार भूकंप स्थानीय समयानुसार सुबह 11:39 बजे पर जापान के मुख्य होंशु द्वीप में आया। इसका केन्द्र राजधानी टोक्यो से 350 किलोमीटर दूर दक्षिण पश्चिम में स्तह से 10 किलोमीटर नीचे था। भूकंप से किसी भी प्रकार के जान-माल की हानि की कोई तुरंत सूचना नहीं है।

बुलेट ट्रेनों का रोका गया संचालन
सार्वजनिक प्रसारक एनएचके का कहना है कि भूकंप के भारी झटकों से देश की बुलेट ट्रेनों का संचालन अस्थायी रूप से रोकना पड़ा । जापान चार टेक्टोनिक प्लेटों के मध्य में स्थित है और दुनिया में जितने भी सबसे शक्तिशाली भूकंप आते हैं उनमें से 20 प्रतिशत जापान के आसपास महसूस किये जाते हैं। लेकिन कठोर निर्माण नियमों और उनके कड़ाई से पालन के चलते शक्तिशाली झटकों के बावजूद अक्सर नुकसान बेहद कम होता है ।

भूकंप से जापान में मची थी तबाही
भूकंप के चलते जापान सदी की सबसे भयावह परमाणु त्रास्दी झेल चुका है। मार्च 2011 में एक बड़े पैमाने पर पानी के भीतर आये भूकंप से जापान के पूर्वोत्तर तट को भीषण सुनामी लहरों का सामना करना पड़ा था । इस हादसे में 18,500 लोग मारे गए या लापता हुये थे। सुनामी के चलते फुकुशिमा परमाणु संयंत्र में कई रिएक्टर पिघल गये जिससे विकिरण का खतरा पैदा हो गया।

International News inextlive from World News Desk