- सेंट्रल मार्केट के व्यापारियों की आवास आयुक्त से मुलाकात

- हाई कोर्ट के आदेश के आगे संयुक्त आवास आयुक्त ने खींचे हाथ

मेरठ. सेंट्रल मार्केट के मामले में बहुत उम्मीदों के साथ मंगलवार को आवास आयुक्त धीरज शाहू से मिलने लखनऊ पहुंचे व्यापारियों को आयुक्त के कार्यालय से भी निराशा ही हाथ लगी. आवास आयुक्त ने व्यापारियों के पक्ष हर संबंध में वैधानिक मदद करने का तो आश्वासन दिया लेकिन हाईकोर्ट के आदेश के आगे अपने हाथ खींच लिए.

हाईकोर्ट का आदेश होगा पूरा

आवास आयुक्त ने व्यापारियों से बात के दौरान साफ कर दिया कि इस मामले में हाई कोर्ट ने ध्वस्तीकरण का आदेश दिया है. इसलिए आवास विकास इस आदेश का पालन करेगा. यदि व्यापारी हाईकोर्ट के समक्ष अपना पक्ष मजबूती के साथ रखकर शमन शुल्क या अन्य किसी प्रावधान पर मंजूरी ले सकते हैं तो आवास विकास उनके साथ है.

फिलहाल समय की राहत

आवास आयुक्त ने व्यापारियों की मांग पर उनकी समस्या को देखते हुए ध्वस्तीकरण समयावधि में राहत देने का आश्वासन दिया है. आवास आयुक्त ने हाई कोर्ट के आदेश की समयावधि समाप्त होने से पहले व्यापारियों को अपना पक्ष रखने का आदेश दिया है.

पहुंचे थे विधायक

सेंट्रल मार्केट के मामले में विधायक सोमेंद्र तोमर भी व्यापारियों के साथ आवास आयुक्त से मुलाकात करने लखनऊ पहुंचे थे. विधायक ने भी व्यापारियों के पक्ष में आवास आयुक्त से बात की और मुख्यमंत्री स्तर से मदद दिलाने का आश्वसन दिया. मुलाकात करने वाले व्यापारियों में किशोर वाधवा, रजत गोयल, राजेंद्र बड़जात्या, राजीव गुप्ता शामिल रहे.

वर्जन-

आवास आयुक्त ने पूर्ण मदद का आश्वासन दिया है. हमें समय की मोहलत भी दी है. अब हम अपने कागजात के आधार पर हाई कोर्ट में राहत की अपील करेंगे.

- किशोर वाधवा, सेंट्रल मार्केट अध्यक्ष