छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र : दिल्ली से आई लक्ष्य की दो सदस्यीय टीम शुक्रवार को खासमहल स्थित सदर अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर (ओटी) व प्रसव रूम का निरीक्षण कर लौट गई. टीम ने ओटी में इंफेक्शन कंट्रोल, मरीजों का रख-रखाव, संसाधन, डाटा इंट्री सहित अन्य बिंदुओं पर मूल्यांकन की और रिपोर्ट तैयार की. रिपोर्ट केंद्र सरकार को सौंपी जाएगी. इसके आधार पर सदर अस्पताल का ग्रेडिंग किया जाएगा. इसमें 70 फीसद अंक मिलने पर अस्पताल को लक्ष्य प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा. इसके बाद दो लाख रुपये से लेकर छह लाख रुपये तक की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी.

उदेश्यों के बारे बताया

निरीक्षण करने आए टीम में डॉ. चारूल पुरोनी सिंह व डॉ. शक्ति सिंह राठौर शामिल थे. टीम ने सदर अस्पताल के चिकित्सक व पदाधिकारियों के साथ एक बैठक भी की और लक्ष्य योजना के उद्देश्य के बारे में विस्तार से बताया. इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ. महेश्वर प्रसाद, जिला आरसीएच पदाधिकारी डॉ. साहिर पॉल, सदर अस्पताल की उपाधीक्षक डॉ. वीणा सिंह सहित अन्य चिकित्सक व पदाधिकारी उपस्थित थे.

'लक्ष्य' रोकेगा मातृ व शिशु मृत्यु दर

केंद्र सरकार ने मातृ एवं शिशु मृत्युदर में कमी लाने के लिए लक्ष्य नाम से एक नई योजना की शुरूआत की है. इसके माध्यम से लेबर रूम और ऑपरेशन थिएटर में प्रसूताओं को आधुनिक सुविधाएं दी जाएंगी. मातृ एवं शिशु मृत्यु दर सरकार के लिए एक बड़ी समस्या बनी हुई है. लक्ष्य के तहत अस्पताल के लेबर रूम और ऑपरेशन थिएटर में आधुनिक उपकरणों की सुविधाओं के साथ प्रसव से जुड़ी नई तकनीकी का प्रयोग किया जाएगा. इसके साथ ही प्रसव के दौरान महिलाओं को आरामदायक सुविधा दिलाने का प्रयास किया जाएगा.

9999