तिरुवंतपुरम / नई दिल्ली (पीटीआर्इ)। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि पिछले एक सप्ताह से केरल के हालात कुछ ज्यादा ही बिगड़ गए हैं। यहां बाढ़, बारिश और भूस्खलन के कारण काफी ज्यादा नुकसान हुआ है। इसकी वजह से केंद्र सरकार ने गंभीर प्राकृतिक आपदा घोषित किया है।  

अब तक यहां 223 लोगों की जान जा चुकी
मुख्यमंत्री पिनाराय विजयन के मुताबिक 8 अगस्त से केरल में हालात बिगड़ने शुरू हुए थे। अब तक यहां 223 लोगों की जान जा चुकी है। यहां करीब 10.78 लाख से ज्यादा विस्थापित लोगों को 3,200 राहत शिविरों में शरण दी गर्इ है। इसमें करीब 2.12 लाख महिलाएं आैर 12 साल से कम उम्र के एक लाख बच्चे हैं।
 
केरल की बाढ़ गंभीर आपदा घोषित-मदद के लिए बढ़े हाथ,10 प्वांइट्स में जानें वहां के सारे हालात

करीब 20,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ
शुरुआती आकलन के अनुसार केरल को अभी तक करीब 20,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। वहीं यहां के हालातों को देखते हुए केंद्र सरकार राज्य की हरसंभव मदद कर रही है। केरल को मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष से 210 करोड़ रुपये मिले हैं। इसके अलावा करीब 160 करोड़ रुपये का वादा किया गया है।

तबाही मचा रही बारिश आखिरकार थम गई

अब केरल के हालातों के सामान्य होने की उम्मीद है। पिछले एक हफ्ते से तबाही मचा रही बारिश आखिरकार थम गई है। इससे राहत आैर बचाव कार्य में आैर ज्यादा तेजी आने की उम्मीद है। कई दिनों के बाद विमान सेवा बहाल हुई है।  सेना, नौसेना, वायुसेना, तटरक्षक बल और एनडीआरएफ ने यहां पर कमान संभाल रखी है।

केरल की बाढ़ गंभीर आपदा घोषित-मदद के लिए बढ़े हाथ,10 प्वांइट्स में जानें वहां के सारे हालात

जलस्तर घटने के बाद महामारी की आशंका

वहीं अब केरल में जलस्तर घटने के बाद महामारी के तेजी से फैलने की आशंका है। एेसे में यहां महामारी न फैलने पाए इसका हर संभव प्रयास किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले ही कमर कस ली है। केंद्र ने महामारी रोगों को रोकने के लिए बाढ़ से पीड़ित केरल में 3,757 चिकित्सा शिविर स्थापित किए हैं।  

मुसीबत के समय मछुआरे हीरो बनकर आए
केरल में भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन जैसी इस मुसीबत के समय में मछुआरे बड़े हीरो बनकर सामने आए हैं। बचाव अभियान के दौरान उन्होंने अपनी नावें मदद के लिए दी।एेसे में मुख्यमंत्री पिनाराय विजयन ने कहा कि यहां सरकार 29 अगस्त को उन मछुआरों को सम्मानित करेगी जिन्होंने बचाव अभियान में भाग लिया है।

केरल की बाढ़ गंभीर आपदा घोषित-मदद के लिए बढ़े हाथ,10 प्वांइट्स में जानें वहां के सारे हालात

आर्थिक मदद के लिए देश भर से हाथ उठ रहे
केरल की मदद के लिए देश भर से हाथ उठ रहे हैं। लोग यहां आर्थिक, शारीरिक के अलावा रोजमर्रा की जरूरत वाली चीजें भी भेज रहे हैं। तेलंगाना,  पश्चिम बंगाल, आेडिशा, मणिपुर समेत कर्इ राज्य आर्थिक मदद के लिए आगे आए है। इसके अलावा देश के जज, नेता आैर प्रशासनिक अफसरों ने भी मदद का एेलान किया है।


केरल की ज्यादा से ज्यादा मदद करने की अपील
आम लोगों के साथ-साथ फिल्मी सितारे भी मदद के लिए आगे आए हैं। अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, जैक्लिन फर्नांडिस, अक्षय कुमार, प्रियदर्शन जैसे कई बड़े नामों ने रिलीफ वर्क में मदद के लिए अपनी-अपनी तरफ से फाइनेंशियल कॉन्ट्रीब्यूशन किया है और लोगों से केरल की ज्यादा से ज्यादा मदद करने की अपील की है।

केरल की बाढ़ गंभीर आपदा घोषित-मदद के लिए बढ़े हाथ,10 प्वांइट्स में जानें वहां के सारे हालात

केरल में आर्इ ये बाढ़ सदी की सबसे बड़ी बाढ़
बता दें कि केरल में आर्इ ये बाढ़ सदी की सबसे बड़ी बाढ़ कही जा रही है। भारी बारिश, नदियों में बाढ़ और कई भूस्खलनों की वजह से यहां के हालात काफी गंभीर हो गए थे। बीते 18 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंचे थे। वहीं इसके पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी केरल गए थे।

केरल इन दिनों बेहद बुरी स्थितियों से गुजर रहा
इस दौरान राजनाथ सिंह ने बिगड़े हालातों व बाढ़ग्रस्त इलाकों का निरीक्षण कर कहा था कि केरल इन दिनों बेहद बुरी बाढ़ की स्थितियों से गुजर रहा है। स्वतंत्र भारत के इतिहास में केरल में इसके पहले कभी एेसी बाढ़ नहीं देखी गर्इ। इस दौरान उन्होंने 100 करोड़ रुपये की फौरी केंद्रीय सहायता राशि देने की घोषणा की थी।

केरल में बाढ़ के बाद अब महामारी का डर, बनाए गए 3757 मेडिकल कैंप

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आया बॉलीवुड, बिग-बी, शाहरुख, आलिया समेत कई हस्तियों ने की मदद

National News inextlive from India News Desk