नर्इ दिल्ली (पीटीआर्इ / आर्इएएनएस)। केरल इन दिनों सदी की सबसे भीषण बाढ़ और मूसलाधार बारिश से तबाही के दौर से गुजर रहा है। भारी बारिश, बाढ़ आैर भूस्खलन ने अब तक 200 से ज्यादा जिंदगियों को निगल लिया है। इसके अलावा करीब 6.33 लाख लोग राज्य के तीन हजार राहत शिविरों में रहने को मजबूर हुए हैं। सशस्त्र सेनाओं के जवान केरल में बाढ़ पीडि़तों की जान बचाने में जुटे हैं। हालांकि अब यहां पर बारिश के थमने के आसार दिख रहे हैं।

केरल को करोड़ों में आर्थिक मदद भेज जा रही

मौसम विभाग के वैज्ञानिकों का कहना है कि यहां अगले चार से पांच दिन तक तेज बारिश के आसार नही दिख रहे हैं। एेसे में बारिश की गति धीमी होने से यहां के बिगड़े हालातों पर तेजी से काबू पाया जा सकता है। इसके अलावा आने वाले दिनों में यहां जलस्तर भी तेजी से घट सकता है। केरल की मदद के लिए केंद्र सरकार भी 100 करोड़ से अधिक का बजट जारी कर चुकी है। इसके अलावा दूसरे राज्यों से भी केरल को करोड़ों में आर्थिक मदद भेज जा रही है।

3,757 चिकित्सा शिविर स्थापित किए गए हैं
तेलंगाना ने 25 करोड़,  पश्चिम बंगाल ने 10 करोड़ रुपये, आेडिशा ने 5 करोड़ रुपये,  मणिपुर ने 2 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद देने का एेलान किया है। वहीं अब शासन से लेकर प्रशासन को आशंका है कि बारिश आैर बाढ़ के बाद केरल के राहत शिविरों में महामारी होने का खतरा फैल सकता है। एेसे में स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले ही कमर कस ली है। केंद्र ने महामारी रोगों को रोकने के लिए बाढ़ से पीड़ित केरल में 3,757 चिकित्सा शिविर स्थापित किए हैं।

अब तक किसी महामारी के फैलने की खबर नहीं
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि अब तक किसी महामारी के फैलने की खबर नहीं है। जलस्तर घटने पर महामारियों का सिलसिला शुरू हो सकता है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से हर दिन जांच करने को कहा गया है। केंद्र ने 90 प्रकार की दवाइयों की पहली खेप भी केरल भेज दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने बताया कि उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा से भी बात की है और वह लगातार हालात पर नजर रखे हुए हैं।

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आया बॉलीवुड, बिग-बी, शाहरुख, आलिया समेत कई हस्तियों ने की मदद

केरल में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंचे पीएम मोदी, 180 लोगों की हुर्इ मौत

National News inextlive from India News Desk