172

आग घटनाएं हुई जनवरी से अब तक शहर में

03

आग की घटना हुई जनवरी महीने में कुल

31

जगह शहर के अंदर जगह-जगह फरवरी में लगी आग

56

जगह मार्च महीने में लगी सिटी के अंदर आग

80

आग की घटनाएं अप्रैल महीने में शहर के भीतर

02

घटना आग लगने की हुई मई माह के छह तारीख तक

जार्जटाउन स्थित इलेक्ट्रानिक सामानों के सर्विस सेंटर में लगी शार्ट सर्किट से आग

PRAYAGRAJ: गर्मी में शार्टसर्किट से आग लगने की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। सोमवार को पंजाबी भवन के पीछे स्थित इलेक्ट्रानिक सामान के सर्विस सेंटर में आग लग गई। आग से सेंटर में रखे उपभोक्ताओं के एसी, टीवी, फ्रिज, कूलर जलकर राख हो गए। घटना से मोहल्ले में दहशत फैल गई। करीब पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड के जवान आग काबू पा सके।

दहशत में रहे मोहल्ले के लोग

पुलिस के मुताबिक इस सर्विस सेंटर की प्रोपराइटर नीलम सिंह हैं। सेंटर में दर्जनों कस्टमर के सामान रिपेयरिंग के लिए रखे हुए थे। सोमवार की सुबह करीब आठ बजे शार्टसर्किट से आग लग गई। आग की लपटें देख मोहल्ले के लोग दहशत में आ गए। कई आवास लाइन से सटकर बने हुए हैं। आग इन आवासों में फैलने का खतरा बढ़ गया। सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड के जवान वाटर टैंक के साथ मौके पर पहुंचे। आग बुझाने में फायर ब्रिगेड के 13 टैंकर लगे हुए थे। घटना को देख सेंटर के मालिक गश खाकर गिर पड़े। उन्हें स्थानीय प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया। ऐसी स्थिति में नुकसान की सही स्थिति का पता नहीं चल सका।

नहीं थम रही शार्टसर्किट से आग

धूमनगंज में चाउमीन फैक्ट्री में लगी शार्टसर्किट से भीषण आग

पुलिस लाइंस के पास पेंटगोदाम में भी शार्टसर्किट से लगी थी आग

जार्जटाउन चौकी के पास स्थित किराने की दुकान भी हो गई थी राख

चौक स्थित फर्नीचर की दुकान में शार्टसर्किट से ही आग लगी थी

शार्टसर्किट से कीडगंज स्थित लकड़ी की दुकान में लगी थी आग

पत्रिका चौराहे के पास शीट कवर बनाने वाले गोदाम में भी शार्टसर्किट से ही लगी थी आग

कंपनी बाग के पास एसी गोदाम में भी आग की वजह शार्टसर्किट ही थी

शार्टसर्किट पांच मुख्य कारण

वायरिंग में पुराने तार का प्रयोग करना

तार के जोड़ का ढीला व खुला होना

ज्वाइंट पर सही से टेपिंग का न होगा

एक ही शॉकेट में कई प्लग लगा देना

तार पर क्षमता से अधिक लोड देना

बटन ऑन करके प्रतिष्ठान बंद करना

जार्जटाउन में लगी आग की घटना बड़ी थी। जवानों ने कई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। थोड़ी सी सावधानी बरत कर लोग शार्टसर्किट जैसी घटना से बच सकते हैं। शार्टसर्किट के मुख्य पांच, छह कारण होते हैं।

आरएस मिश्र,

सीएफओ सिविल प्रयागराज