मठ बाघम्बरी गद्दी में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों से किया आह्वान

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के बुलावे पर इलाहाबाद पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के लिए अगले साल आयोजित होने वाले कुंभ मेला को दिव्य और भव्य बनाने का ख्वाब दिखाई दे रहा था. इसकी बड़ी वजह भी यही रही कि मठ बाघम्बरी गद्दी में परिषद के पदाधिकारियों के साथ मंत्रणा के दौरान श्री शाह ने संत-महात्माओं का आहवान किया कि दुनिया को कुंभ की भव्यता को दिखाने और उसको सकुशल सम्पन्न कराना केन्द्र और राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक शामिल हैं.

यूनेस्को की सूची का दिया हवाला

संगम की रेती पर लगने वाले कुंभ मेला को यूनेस्को की सांस्कृतिक विरासत की सूची में शमिल किए जाने के बाद उसकी महत्ता के अनुसार ही कार्य कराए जा रहे हैं. जिसका हवाला खुद श्री शाह ने संत-महात्माओं को दिया. परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि की मानें तो भोजन ग्रहण करने के दौरान भाजपा अध्यक्ष ने हम सभी से यूनेस्को की सूची का जिक्र किया और कहा कि देश-दुनिया के लोगों को भी उसका महत्व बताने के लिए मेला के दौरान उच्च कोटि की सभी मूलभूत सुविधाओं मुहैया कराई जाएगी.

संतों ने दिया आशीर्वाद

संत-महात्माओं के सामने श्री शाह की ओर से कुंभ की भव्यता और कुशलता की कामना की गई तो महात्माओं ने भी उनकी इच्छा पूरी होने की कामना करते हुए आशीर्वाद दिया. आशीर्वाद देने वालों में प्रमुख रूप से महंत नरेन्द्र गिरि, महंत हरी गिरि व राम सेवक गिरि सहित कई संत-महात्मा शामिल रहे.

पहली बार मठ पहुंचे अध्यक्ष

मठ बाघम्बरी गद्दी में वैसे तो सभी राजनैतिक दलों के बड़े-बड़े नेता आशीर्वाद लेने पहुंचते रहे हैं लेकिन मठ के इतिहास में पहली बार भाजपा के कोई शीर्ष पदाधिकारी पहुंचे थे. उस कड़ी में अध्यक्ष अमित शाह का नाम भी दर्ज हो गया है.

मठ में आने पर भाजपा अध्यक्ष ने हम सभी संत-महात्माओं से सिर्फ कुंभ की भव्यता को लेकर चर्चा की. उन्होंने स्पष्ट कहा कि कुंभ को दिव्य बनाने के लिए सारे प्रयास किए जाएंगे. बस आप लोग अपना सहयोग दीजिए.

महंत नरेन्द्र गिरि, अध्यक्ष अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद