- 'यूपी ट्रैफिक पुलिस' एप पर आपको नियम तोड़ने वाले की फोटो अपलोड करनी होगी

- अपलोड की गई फोटो को रूल तोड़ने का एवीडेंस मानकर विभाग चालक के घर भेजेगा चालान

kanpur@inext.co.in

kanpur:

शहर के बिगड़े हुए ट्रैफिक को सुधारने और रफ्तार देने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने जिम्मेदार नागरिकों को जोड़ने की पहल की है. जिसके तहत अब कोई भी व्यक्ति ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वाले वाहन चालक का चालान करा सकेगा. जी हां, इसके लिए बस आपको रूल तोड़ने वाले चालक की उसके वाहन के साथ फोटो क्लिक करके यूपी ट्रैफिक पुलिस नाम की एप पर अपलोड करनी होगी. इस फोटो को ट्रैफिक रूल तोड़ने का एवीडेंस मान कर विभाग उस नंबर का ऑनलाइन चालान भ्ोज देगा.

बुरी आदत अभी बदल डालो

अगर आप को ट्रैफिक रूल्स फॉलो न करने की बुरी आदत है तो अभी उसे बदल डालिए. क्योंकि भले ही आप चौराहे पर रूल्स तोड़कर ट्रैफिक पुलिस के सिपाही से बचकर निकल जाए. लेकिन आपके आसपास चल रहे जिम्मेदार नागरिक की नजर से बचना आपके लिए मुश्किल होगा.

कराना होगा एप में रजिस्ट्रेशन

इस एप को यूज करने के लिए राहगीर को एप में अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके लिए उसे अपना पूरा नाम, मोबाइल नंबर, वाहन का नंबर और लाइसेंस नंबर जैसी जानकारियां भी देनी होगी. रजिस्ट्रेशन कंफर्म होने के बाद एप को यूज किया जा सकता है. लॉगइन करते वक्त यूजर को अपना मोबाइल नंबर इस एप पर अपलोड करना होगा, जिस पर भेजे गए ओटीपी के मैच करते ही यूजर एप में एंटर कर जाएगा.

किए जा रहे तकनीकि बदलाव

उन्होंने बताया कि हाल ही में लॉन्च इस एप की मदद से राहगीर को एरिया में ट्रैफिक की जानकारी, चालान संबंधी जानकारी समेत अन्य जरूरी जानकारियां मिल सकेंगी. हालांकि अभी राहगीर के फोटो अपलोड करने में आ रही कुछ तकनीकि दिक्कतों के चलते एप को अपग्रेड किया जा रहा है. इसके चलते वर्तमान में एप में रजिस्ट्रेशन नहीं हो पा रहा है, लेकिन जल्द ही यह एप फिर से ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने में अहम भूमिका निभाएगी.

वर्जन

एप की मदद से राहगीर भी ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने में अहम भूमिका निभा सकेंगे. ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों को अपनी आदत बदलनी होगी. एप में कुछ तकनीकि बदलाव किए जा रहे हैं, जिसके बाद इस सुविधा का लाभ उठाया जा सकेगा.

- सुशील कुमार, एसपी ट्रैफिक

------

1795 ऑनलाइन चालान 18 अगस्त को स्टॉप लाइन में हुए

4 लाख से ज्यादा चालान 18 अगस्त तक स्टॉप लाइन में हो चुके हैं

6806 चालान 17 अगस्त तक रेड लाइट तोड़ने के लिए