BAREILLY: ड्रॉप बॉक्स में चेक डालकर निश्चिंत हो जाते हैं कि आपका चेक सही सलामत अकाउंट में लगकर कैश हो जाएगा तो सावधान हो जाएं. क्योंकि ड्रॉप बॉक्स पर चोरों की नजर है. ड्रॉप बॉक्स से चेक गायब कर हेराफेरी कर उसे फर्जी अकाउंट में कैश करा लिया जा रहा है. बरेली में पीएनबी सिविल लाइंस की ब्रांच में भी ऐसा हुआ है. यहां जल निगम कर्मी के बेटे ने दो लाख रुपए का चेक ड्रॉप बॉक्स में डाला था लेकिन चेक गायब हो गया. अकाउंट पेई चेक होने के बावजूद खेल हो गया. जब जानकारी की तो पता चला कि फर्जी तरह से दूसरे अकाउंट में कैश हो गया है. बैंक में शिकायत करने पर बहाने-बाजी की गई. अब पीडि़त ने कोतवाली में तहरीर दी है. उसने बैंक कर्मचारियों पर मिलीभगत का आरोप लगाया है.


4 मई को डाला था चेक

किशोर बाजार निवासी सोनपाल गाजियाबाद जल निगम में टेक्निकल पद पर तैनात हैं. उनकी पत्‍‌नी और बच्चे बरेली में ही रहते हैं. उनका अकाउंट गाजियाबाद की नवयुग मार्केट स्थित पीएनबी ब्रांच में हैं. उन्होंने बेटे अरविंद के नाम दो लाख रुपए का अकाउंट पेई चेक काटकर दिया था. बेटे ने 4 मई को पटेल चौक के पास पीएनबी सिविल लाइंस ब्रांच के ड्रॉप बॉक्स में चेक डाला था. 7 मई तक जब अकाउंट में चेक कैश नहीं हुआ तो उन्होंने बैंक में जाकर पूछा. बैंक में चौकीदार ने बताया कि उनका चेक गायब हो गया है. उसके बाद 11 मई को दोबारा चेक ड्रॉप बॉक्स में डाला गया. इसके बाद भी अकाउंट में रुपए नहीं पहुंचे तो 14 मई को बैंक में जाकर पूछताछ की. इस पर बताया गया कि चेक का भुगतान हो गया है. यही नहीं जब सीसीटीवी फुटेज दिखाने के लिए कहा तो मिसबिहैव किया गया.