lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: कांगे्रस के चुनावी घोषणा पत्र पर तंज कसते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 55 पेज का घोषणापत्र 55 वर्षों के उबाऊ और पुराने अपूर्ण वादों का नया संकलन है। घोषणा पत्र में बोल्ड करके बार-बार लिखा है, 'हमने ऐसा पहले भी किया है, और हम इसे दुबारा भी करेंगे'। उन्होंने कहा कि इस तरह की खोखली घोषणाएं और सत्ता में आने के बाद जिस भी तरह के घोटाले संभव हो सकते हैं, कांग्रेस पार्टी करती आ रही है। जनता पहले की तरह इनको दुबारा खारिज करेगी। कांग्रेस ने 55 वर्षों तक जनता के साथ सिर्फ अन्याय ही किया है। कांग्रेस का घोषणा पत्र छलावों का पुलिंदा है। नए कलेवर में अपने दशकों पुराने झूठ इकठ्ठा कर कांग्रेस ने हर बार की तरह कागज पर अपना घोषणा पत्र बनाया है।

न्याय योजना बरगलाने का तरीका

योगी ने कहा कि कांग्रेस की न्याय योजना पर मुझे एक छोटी बात याद आती है। एक बार भेडिय़े ने भेड़ों से वादा किया कि आने वाले जाड़ों में सभी भेड़ों को कंबल बांटे जायेंगे, भेड़ों ने जब सवाल किया कि 'इसके लिए ऊन कहां से आएगा' तो भेडिय़ा सिर्फ  मुस्कुरा दिया। गौर से देखें तो वही धूर्त और शातिर मुस्कान आज कांग्रेस के कई नेताओं के चेहरे पर दिखेगी। दरअसल न्याय योजना के अंतर्गत किया गया वादा जनता को एक बार फिर बरगलाने और भरमाने का नया तरीका है। पूरे देश के बजट के व्यय का 13 प्रतिशत इसमें शामिल होगा और इस रकम की व्यवस्था कैसे होगी, ये नहीं बताया गया। यह पैसा क्या कांग्रेस अपने नेताओं के स्विस खातों से, जिसमें दशकों से जनता को लूटकर इकठ्ठा किया है वहां से लाएगी।

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए कांग्रेस का मेनिफेस्‍टो जारी, ये हैं उसकी मुख्‍य बातें

आचार संहिता के उल्लंघन में फंसे जितिन प्रसाद और नरेश अग्रवाल