गुरुवार की सुबह बाल सम्प्रेषण गृह से सात किशोर हुए फरार

- डीएम ने सात कर्मचारियों को किया सस्पेंड

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: पहले बालिका बाल गृह, फिर आशा ज्योति केंद्र और अब गुरुवार सुबह बाल सम्प्रेषण गृह से सात किशोरों के फरार होने से हड़कंप मच गया. प्रशासन ने इस मामले में शेल्टर के सात कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया और उनके खिलाफ खुल्दाबाद थाने में मामला दर्ज करा दिया है. पुलिस को इस मामले में सीसीटीवी फुटेज मिला है और एसएसपी मामले की जांच के लिए टीम गठित की है.

घटना की जानकारी होने पर मचा हड़कंप

गुरुवार की अलसुबह तीन बजे खुल्दाबाद बाल सम्प्रेषण गृह से सात किशोर फरार हो गए. इन्हें विभिन्न मामलों में यहां रखा गया था. यह सभी खिड़की की ग्रिल काटकर फरार हुए हैं. सुबह घटना उजागर होने के बाद हड़कंप मच गया. आनन-फानन में प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस मौके पर पहुंच गई. बता दें कि बाल सम्प्रेषण गृह पहली मंजिल पर स्थित है.

कहां थे केयर टेकर और होमगार्ड

बाल सम्प्रेषण गृह में कुल 18 कर्मचारी तैनात हैं. पांच केयर टेकर, चार फोर्थ क्लास सहित दूसरे पदों पर हैं. सभी के होने के बावजूद किशोर कैसे फरार हो गए यह बड़ा सवाल रहा. मामले की जानकारी होने पर डीएम सुहास एलवाई ने लापरवाही सामने आने पर कार्रवाई करते हुए सात कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया. इनमें दो कांस्टेबल अनूप और सुरजीत, दो होमगार्ड विनोद व शीबू, दो केयर टेकर शिवजीत और क्लास फोर कर्मचारी अर्जुन यादव व जगदीश मिश्रा शामिल हैं. इन सभी के खिलाफ खुल्दाबाद थाने में प्रशासन ने मामला दर्ज कर दिया है.

तलाश में टीम गठित

सभी अपचारियों को बाल सम्प्रेषण गृह में सुधार के लिए रखा गया था. यह सभी फतेहपुर, प्रतापगढ़ और इलाहाबाद के रहने वाले थे. शाम तक इनका कोई पता नहीं चला. एसएसपी ने किशोरों की तलाश में टीम का गठन किया है. सीसीटीवी कैमरे से मिली फुटेज में किशोरों के भागने की तस्वीर दर्ज है जिसकी पुलिस जांच कर रही है.

पहले भी हो चुकी है घटना

-पिछले साल सितंबर में तीन लड़कियां बालिका बालगृह से फरार हो गई थीं. फिल्मी स्टाइल में भागी इन लड़कियों को इटावा स्टेशन से पुलिस ने बरामद किया था. इन्होंने शेल्टर के कर्मचारियों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया था.

-इसी महीने की शुरुआत में आशा ज्योति केंद्र से फतेहपुर की रहने वाली एक किशोरी फरार हो गई थी. इस घटना में सुरक्षा पर तैनात पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की गई थी.

मामला अर्ली मार्निग या बुधवार देर रात का है. मामले की रिपोर्ट प्रशासन को सौंप दी गई है. प्रथम तल से खिड़की की ग्रिल काटी गई है. वह कैसे भागे इसकी जानकारी की जा रही है.

-नीलेश मिश्रा, डीपीओ

सात लोगों के खिलाफ लापरवाही को लेकर सस्पेंशन की कार्रवाई की गई है. इनके खिलाफ खुल्दाबाद थाने में मामला दर्ज कराया गया है. अगर कोई दोषी सामने और आता है उसे बख्शा नही जाएगा. किशोरों की बरामदगी की कोशिश जारी है.

-सुहास एलवाई, डीएम