स्कूलों में चलेगा ईट राइट इंडिया मूवमेंट

फूड सेफ्टी क्लब का होगा निर्माण, बच्चे करेंगे गाइड

Meerut . सेहत के लिए क्या खाना अच्छा है और किस तरह के खाने से बचना चाहिए ताकि हेल्दी रहा जा सके. इस बारे में अब स्कूली बच्चे समझाएंगे. सीबीएसई यानि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने स्कूलों को अपने यहां फूड सेफ्टी क्लब बनाने के निर्देश दिए हैं. दरअसल, ईट राइट इंडिया मूवमेंट के तहत सीबीएसई की ओर से स्कूलों को ये निर्देश दिए गए हैं.

बनेंगे तीन ग्रुप, रखेंगे नजर

स्कूलों के फूड सेफ्टी क्लब में सभी क्लासेज के बच्चों को वॉलिटियर्स की तरह शामिल किया जाएगा. इसके तहत तीन ग्रुप बनाए जाएंगे. इसमें पहला 1 से 5वीं कक्षा तक, दूसरा कक्षा 6 से 8वीं तक और तीसरा कक्षा 9 से 12वीं तक के छात्रों के लिए होगा. इसके अलावा इन बच्चों को हेल्दी फूड से संबंधित पोस्टर और स्लोगन भी तैयार करना होगा. इसके लिए स्टूडेंट्स की ट्रेनिंग भी कराई जाएगी. वहीं, अगर स्कूल में कोई टीचर या स्टूडेंट अनहेल्दी फूड खाता हुआ दिखाई दिया तो वह क्लब उन्हें रोकेगा और हेल्दी फूड ही खाने के लिए प्रेरित करेगा.

लोगों को करेंगे जागरूक

अनहेल्दी फूड और जंक फूड की वजह से आजकल कई तरह की बीमारियां तेजी से लोगों को घेर रही हैं. यही नहीं, छोटे-छोटे बच्चों में भी मोटापा, वीक आईसाइट जैसी समस्याएं बहुत तेजी से बढ़ रही हैं, जिनका मुख्य कारण अनहेल्दी फूड है. इसके तहत क्लब के बच्चे पंफलेट और पोस्टर भी तैयार करेंगे. जिनका प्रयोग हाउसिंग सोसाइटी और जनजागरूकता कार्यक्रमों में लोगों को जागरूक करने के लिए किया जाएगा साथ ही अनहेल्दी फूड से होने वाली बीमारियों और नुकसान के बारे में बताएंगे.

पूर्व में भी जारी गाइडलाइन

सीबीएसई की गाइडलाइन के मुताबिक बच्चों के टिफिन में जंक फूड और अनहेल्दी खाना लाने की परमीशन नहीं हैं.

सीबीएसई की गाइडलाइन के अनुसार स्कूल कैंटीन में जंक फूड बैन हैं.

स्कूल के 200 मीटर के दायरे में जंक फूड और रेडी टू ईट नूडल्स नहीं बेची जानी चाहिए

---

बच्चों में ईटिंग हैबिट को इंप्रूव करने के लिए सीबीएसई काफी काम कर रहा है. यह भी सीबीएसई की बहुत अच्छी पहल है.

निधि मलिक, प्रिंसिपल, सेंट जेवियर्स व‌र्ल्ड स्कूल

आजकल बच्चे जंक फूड काफी खाते हैं. इस प्रोजेक्ट के तहत वह खुद अनहेल्दी फूड के बारे में दूसरों को बताएंगे. इससे उन्हें काफी सीख मिलेगी.

डॉ. याचना भारद्वाज, प्रिंसिपल, ऋषभ एकेडमी