- मिर्ची की आवक कम होने से 100 रुपए किलो तक पहुंची हरी मिर्च

- सिलीगुड़ी और गुवाहटी से हो रही मिर्च की सप्लाई

Meerut . सब्जियों में तीखे स्वाद का तड़का लगाने वाली हरी मिर्च अब आम आदमी का बजट बिगाड़ रही है. बाजार में मिर्च का भाव इस समय सैकड़ा पार कर चुका है. हालत यह है कि मंडी में भी मिर्च 70 से 80 रुपए प्रति किलो बिक रही है. मिर्च की यह तेजी आवक कम होने के कारण है और मंडी के विशेषज्ञों की मानें तो अभी डेढ़ माह तक मिर्च के दाम कम नही होंगे.

सिलीगुड़ी और गुवाहटी की मिर्च

बाजार में इस समय सिलीगुडी और गुवाहटी से आने वाली पहाड़ी मिर्च की सप्लाई है. पूरे जनपद समेत आसपास के क्षेत्रों में यही हरी मिर्च सप्लाई हो रही है. लोकल सप्लाई खत्म हो चुकी है और अन्य प्रदेशों से कम सप्लाई होने के कारण मिर्च के दाम में इजाफा हो रहा है.

रामपुर बरेली की मिर्च हुई खत्म

दरअसल सर्दियों की शुरुआत से पहले रामपुर बरेली समेत शाहजहांपुर आदि शहरों से मिर्च की आमद थी. यह फसल चार माह तक रहती है. अब सर्दियां खत्म होने के साथ ही सप्लाई बंद हो चुकी है. ऐसे में केवल पहाड़ी मिर्च का ही विकल्प बची है. इसलिए दिल्ली समेत यूपी की सब्जी मंडी में इस समय पहाड़ों की मिर्च की सप्लाई हो रही है.

कोटस-

मंडी में पुरानी फसल पूरी तरह से खत्म हो चुकी है और नई फसल आई हुई है. लेकिन यह नई फसल दूर से आ रही है इसलिए अधिकतर सब्जियों के दाम में इजाफा हो रहा है.

- अशोक प्रधान, सब्जी मंडी अध्यक्ष

मिर्च के दाम जनवरी माह से लगातार बढ़ रहे हैं. फिलहाल 80 रुपए किलो मिर्च के दाम है ऐसे में ग्राहक भी अब मिर्च को कम ही खरीद रहे हैं.

- प्रशांत सब्जी विक्रेता

मिर्च के साथ कई अन्य सब्जियों के दाम इस मौसम में बढ़ जाते हैं यह हर साल होता है लेकिन इस साल मिर्च के दाम में काफी अधिक इजाफा हुआ है.

- कौशलेंद्र