समंदर में बादशाहत कायम करने को चीन बना रहा है सबसे दमदार रोबोटिक पनडुब्बी
कानपुर। चाइना साल 2020 में एक ऐसी पनडुब्बी अपनी नौसेना को देने जा रहा है, जो पूरी तरह से इंसानों से रहित यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस होगी। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक यूं तो भले ही साउथ चाइना सी में अपना दबदबा कायम करने के लिए चीन इसे अपनी नौसेना को देगा पर सच तो यह है कि यह पनडुब्बी इससे भी कहीं ज्यादा कारगर और खतरनाक साबित हो सकती है।

चीन बना रहा है इंटेलिजेंट पनडुब्बी जो दुश्‍मन के जहाज को डुबाने के लिए जा सकती है सुसाइड मिशन पर

खुफिया जानकारियां जुटाने के साथ ही अंजाम दे सकती है सुसाइड मिशन
डेलीमेल की रिपोर्ट बताती है कि चाइना द्वारा बनाई जा रही यह AI यानि इंटेलीजेंट सबमरीन महीनों तक बिना ईंधन लिए दुनिया भर के समंदर में चक्कर लगाने की क्षमता वाली होगी। इस पनडुब्बी में कोई भी इंसान या ऑपरेटर्स नहीं होंगे इसलिए इसे दुनिया भर के समंदर में कई तरह के खतरनाक मिशन पर आसानी से इस्तेमाल किया जा सकेगा। यह पनडुब्‍बी समंदर के भीतर तमाम तरह की खुफिया जानकारियां जुटा सकती है, समंदर में सी-माइन लगाकर किसी भी चीज को ब्‍लॉस्‍ट कर सकती है। यही नहीं किसी बड़े जहाज या हाई वैल्यू टारगेट को निशाना बनाने के लिए यह सबमरीन सुसाइड मिशन पर भी जा सकती है और खुद को ब्‍लॉस्‍ट करके बड़े से बड़े जहाज को डुबा सकती है।

महीनों लंबे सफर पर जा सकेगी समंदर में
साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक यह ऑटोमेटिक रोबोटिक पनडुब्बी साल 2020 तक चीन के समंदर में तैनात हो सकती है। हालांकि ऐसी पनडुब्बी बनाने का यह उद्देश्य नहीं है की नौसेना से मानव ऑपरेटेड सबमरीन हटा दी जाएं। बल्कि कुछ खास तरह के और खतरनाक समुद्री खतरों से निपटने के लिए चाइना अपनी पश्चिमी नौसेना कमांड को और भी ज्यादा मजबूत करने की कोशिश करेगा। रिपोर्ट के मुताबिक यह सबमरीन किसी सैन्य बेस से आदेश लेकर समंदर में महीनों लंबे सफर पर जा सकती है और तमाम मुश्किल मिशन को अंजाम दे सकती है।

इस कंपनी ने किया बड़ा कमाल, SUV की कीमत में ला रही है उड़ने वाली कार!

सिर्फ 54 घंटे में बना डाला 5 बेडरूम का फ्लैट, इस हाईटेक तकनीक से तो हो जाएगी बल्‍ले-बल्‍ले!

कार के बाद स्मार्टफोन के लिए भी आ गए एयरबैग, जो उसे टूटने नहीं देंगे

International News inextlive from World News Desk