-शहर से लेकर गांव तक हुई घटनाएं

-तुर्कमानपुर में भीड़ जुटने पर पहुंची पुलिस

GORAKHPUR: जिले में चोटी काटने की घटनाएं थम नहीं रही हैं. शनिवार को कई जगहों पर चोटी कटने की सूचना से पुलिस परेशान रही. राजघाट एरिया के तुर्कमानपुर नूरी मस्जिद के पास किशोरी की चोटी कटने की सूचना से भीड़ जमा हो गई. शनिवार शाम हुई घटना की सूचना पर मोहल्ले में फोर्स लगा दी गई. चोटी कटने की घटना की पुलिस जांच पड़ताल कर रही है. उधर, सहजनवां, खोराबार सहित कई अन्य जगहों पर चोटी कटने के मामले सामने आए, जिनसे चर्चाओं का बाजार गर्म रहा.

अचानक कट गई किशोरी की चोटी

शनिवार शाम तुर्कमानपुर नूरी मस्जिद निवासी इरशाद की बेटी तैयबा घर के काम निपटा रही थी. तभी अचानक उसे सिर भारी लगने लगा. उसे महसूस हुआ कि वह चक्कर खाकर गिर पड़ेगी. कुछ देर बाद उसकी नजर फर्श पर पड़ी तो अपनी चोटी कटी देखकर वह परेशान हो गई. उसके शोर मचाने पर परिवार के लोगों को चोटी कटने की जानकारी हुई. कुछ ही पल में यह बात पूरे मोहल्ले में फैल गई. चोटी कटने की सूचना पर लोगों का जमावड़ा लग गया. किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी. भारी भीड़ जमा होने पर पुलिस पहुंची. लोगों को समझा-बुझाकर अफवाहों से बचने की सलाह दी.

सुबह जगी तो गायब थी चोटियां

सहजनवां एरिया के मुजौली गांव की कालिंदी सिंह शुक्रवार रात घर में सो रही थी. रात में करीब साढ़े तीन बजे उसका नौ माह का बेटा रोने लगा. बच्चे को दूध पिलाने के लिए वह जगी तो चोटी का टुकड़ा कटकर उनके हाथ पर गिर गया. बाल का गुछ देखकर वह डर गई. कालिंदी के शोर मचाने पर परिवार के लोगों को चोटी कटने की जानकारी हुई. हरपुर बुदहट एरिया के गनौरी में रामू की पत्‍‌नी शीला की चोटी कट गई. शुक्रवार रात वह सो रही थी. शनिवार सुबह नींद खुली तो चोटी का टुकड़ा देखकर उसके होश उड़ गए.

खाना बनाने गई तभी कटी चोटी

पिपराइच एरिया के कोनी निवासी कन्हैया की बेटी ज्योति की चोटी शनिवार शाम चार बजे कट गई. वह किचन में खाना बनाने की तैयारी कर रही थी. तभी अचानक उसकी चोटी कटकर गिर पड़ी. कटी चोटी देखकर वह अचेत हो गई. उसके मुंह से झाग निकलने पर घर में चीख-पुकार मच गई. परिजनों ने आनन फानन में उसे नर्सिग होम में भर्ती कराया. इसी क्षेत्र के इमिलिया उर्फ बिजहरा गांव के संदीप की पत्‍‌नी नैना चोटी भी कट गई. सुबह जगी तो अचानक उसका हाथ चोटी पर गया. चोटी कम होने पर उसे कटने की आशंका हुई. वह बिस्तर पर गई तो चोटी का टुकड़ा देखकर परेशान हो गई. बिछौने पर कटी चोटी पड़ी थी.