- जिला अस्पताल का गेट खोलने को लेकर विवाद

- नशे की हालत में आए दो लोगों ने की अभद्रता, विरोध करने पर पीटा

GORAKHPUR: सीएमओ ऑफिस में तैनात चौकीदार ने गेट खोलने से मना किया तो नशे की हालत में एक बाबू ने उसके साथ अभद्रता की। विरोध करने पर उन्होंने चौकीदार की पिटाई कर दी। चौकीदार ने इसकी जानकारी सीएमओ और कोतवाली पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुटी है। उधर चौकीदार ने कार्रवाई के लिए कोतवाली थाने में बाबू के खिलाफ तहरीर दी है।

कोतवाली थाना क्षेत्र के सीएमओ कार्यालय में राकेश कुमार चौकीदार के पद पर तैनात है। 19 मार्च की रात वह ड्यूटी पर थे। करीब 8.30 बजे नशे की हालत में जिला अस्पताल के बाबू पहुंचे और चौकीदार से गेट खोलने के लिए कहने लगे। चौकीदार ने गेट खोलने से इनकार किया तो बाबू ने उसे अपशब्द कहे। जिसका चौकीदार ने विरोध किया तो बाबू और उनके बेटे ने उसकी पिटाई कर दी। चौकीदार राकेश का कहना है कि करीब 10.30 बजे 100 नंबर पर पुलिस कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दी लेकिन मौके पर पुलिस नहीं पहुंची। हालांकि इस मामले से सीएमओ को अवगत करा दिया गया है। साथ ही कोतवाली पुलिस को तहरीर दे दी गई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

वर्जन

इसकी जानकारी नहीं है। पीडि़त की ओर से अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने के बाद संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी।

- जयदीप कुमार, इंस्पेक्टर कोतवाली

सीएमओ कार्यालय का मुख्य गेट रात में बंद कर दिया जाता है। यहां रात में एक चौकीदार की ड्यूटी रहती है। अस्पताल का दूसरा गेट आने जाने के लिए खुला रहता है। मामले मेरे संज्ञान में है। कार्रवाई के लिए कोतवाली थाने को पत्र लिखा गया है।

डॉ। श्रीकांत तिवारी, सीएमओ