- कौशिक टूर एंड ट्रेवेल्स पर आरपीएफ का छापा

- संचालक बब्बन सिंह गिरफ्तार, 52 हजार कीमत के 30 ई टिकट बरामद

- कर चुका है 4 लाख से अधिक का कारोबार

GORAKHPUR: एक साथ 9 यूजर आईडी हैंडलिंग कर लाखों का कारोबार करते शातिर आरपीएफ के हत्थे चढ़ा. बिना कोई तामझाम और पैसा लगाए लाखों का कारोबार करने वाले इस शामिल को रेलवे सुरक्षा बल की सीआईबी टीम ने पीपीगंज स्थित कौशिक टूर एंड ट्रेवेल्स से गिरफ्तार किया. टीम ने मौके से लगभग 52 हजार रुपए कीमत का 30 ई-टिकट बरामद किया है. टिकटों की अनधिकृत बुकिंग और अवैध कारोबार के आरोप में सीआइबी टीम ने संचालक बब्बन सिंह (38) निवासी इटवा थाना पीपीगंज को गिरफ्तार कर आरपीएफ पोस्ट नकहा जंगल के हवाले कर दिया है.

9 पैसेंजर्स कर चुके हैं सफर

पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य सुरक्षा आयुक्त राजाराम के निर्देश पर सीआइबी के प्रभारी निरीक्षक मुकेश कुमार सिंह की टीम ने बुधवार को कौशिक टूर एंड ट्रेवेल्स पर औचक छापा मारा. इस दौरान ट्रेवेल्स सहित अन्य आसपास की दुकानों में अफरा-तफरी मच गई. तलाशी में मिले 30 ई टिकटों में 9 पर यात्रा पूरी हो चुकी थी. जबकि, 21 ई-टिकटों पर यात्रा करना अभी बाकी था. अभियान में उप निरीक्षक शिव शंकर यादव, हेड कांस्टेबिल प्रेम कुमार राय, कांस्टेबिल अजय कुमार प्रसाद, जनार्दन यादव, प्रभारी उप निरीक्षक चौथी प्रसाद और मुन्ना यादव ने अहम भूमिका निभाई है.

पहले भी बरामद हुए थे टिकट

ई टिकटों की कालाबाजारी कोई नई नहीं है. महानगर और छोटे कस्बों में बैठे मोबाइल और ट्रेवेल्स आदि की दुकान चलाने वाले धड़ल्ले से ई टिकटों का अवैध कारोबार कर रहे हैं. 9 जुलाई को सीआइबी की टीम ने ही बशारतपुर स्थित श्रीराम टूर एंड ट्रेवेल्स पर छापामार कर 1.30 लाख कीमत का 98 ई टिकट बरामद किया था. कार्रवाइयों के बाद भी ई टिकटों की कालाबाजारी पर अंकुश नहीं लग पा रहा है.