-स्कूलों में 8 नये गेम्स किए गए इंट्रोड्यूज, अब 20 खेलों में पार्टिसिपेर्ट कर सकेंगे स्टूडेंट्स

-फिजिकल डेवलपमेंट पर अधिक फोकस, सिटी में पहली बार खो खो का नेशनल कॉम्पटीशन

kanpur@inext.co.in

KANPUR: खेलों में शानदार करियर और फिजिकल फिटनेस को ध्यान में रखते सीआईएससीई बोर्ड ने एजूकेशन के साथ-साथ फिजिकल डेवलपमेंट पर भी फोकस करना शुरू कर दिया है. इसी के चलते बोर्ड ने इस एकेडमिक सेशन से स्कूलों में खेलों की संख्या 12 से बढ़ाकर 20 कर दी है. 8 नए गेम्स इंट्रोड्यूज किए गए हैं. इसी कड़ी में कुछ दिनों पहले शीलिंग हाउस स्कूल में खो खो का नेशनल कॉम्पटीशन कराया गया था जो कि पहली बार हुआ है.

ये स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी होंगी

सीआईएससीई स्कूलों के स्टूडेंट्स अब कबड्डी, हॉकी, बास्केटबाल, कैरम, फुटबाल, खो खो, बालीबाल, ताईक्वांडो, स्केटिंग, लान टेनिस, बैडमिंटन, थ्रो बाल, टेबल टेनिस, एथलेक्टिस, कराटे, योगा, क्रिकेट, चेस और स्वीमिंग में पर्टिसिपेट कर सकते हैं. जिन स्कूलों में स्वीमिंग की सुविधा होगी वहां पर ट्रेनर रखे जाएंगे.

वर्जन

स्टूडेट्स के फिजिकल डेवलपमेंट को अब प्रायोरिटी दी जा रही है. पहले एएसआईएससी में सिर्फ 12 गेम्स स्टूडेंट्स को खेलने का अवसर देता था. न्यू एकेडमिक सेशन में 8 नये गेम्स इंट्रोड्यूस किए गए हैं ताकि स्टूडेंट्स को ओवर ऑल डेवलपमेंट हो सके. जब स्टूडेंट्स की सेहत अच्छी होगी तो बोर्ड के एग्जाम में भी अच्छा परफार्मेस करेंगे.

के वी विंसेंट, नेशनल सेकेट्री एएसआईएससी