टेंट सिटी में विश्वनाथ मंदिर में दर्शन के लिए टिकट मिलेगा

varanasi@inext.co.in

VARANASI

प्रयागराज में 14 से आस्थावानों का कुंभ शुरू हो रहा है तो काशी में 21 से प्रवासी भारतीयों का कुंभ है. प्रयागराज में साधु-संतों की भीड़ होगी तो बनारस में दुनियाभर के प्रवासी भारतीय जुटेंगे. एनआरआई की यह यात्रा संस्कृति, सभ्यता से रूबरू कराने के साथ आध्यात्मिक भी होगी. बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन के साथ ही उन्हें 24 जनवरी को वोल्वो बस और स्पेशल ट्रेंस से प्रयागराज ले जाया जाएगा. जहां कुंभ स्नान कराने के साथ ही धार्मिक स्थलों का भ्रमण भी कराया जाएगा.

होगी विशेष व्यवस्था

प्रवासी भारतीयों के लिए काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन की विशेष व्यवस्था की गयी है. तीन दिवसीय आयोजन में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में मेहमानों का आगमन हो रहा है. टेंट सिटी में विश्वनाथ मंदिर में दर्शन के लिए टिकट मिलेगा. मंदिर जाने के लिए वाहन का भी इंतजाम किया जाएगा. मंदिर में भी दर्शन-पूजन के लिए विशेष योजना बनायी गयी है.

सज रहा टीएफसी

एनआरआई समिट के दौरान मुख्य आयोजन बड़ा लालपुर स्थित दीनदयाल उपाध्याय हस्तकला संकुल में होगा. इसे नये कलेवर में संयाजा जा रहा है. यहां गंगोत्री से गंगा सागर तक जाह्नवी के भव्य रूप व काशी की विरासत को फसाड लाइट से दर्शाया जा रहा है. सम्मेलन स्थल पर टेंट का कार्य पूरा हो चला है. सड़कें आदि दुरुस्त हो रही हैं. करीब 114 बिजली खम्भों को सिल्वर कलर से रंग दिया गया है. संकुल में प्रदर्शनी लगाने की तैयारी अंतिम चरण में है. गंगा के 20 घाट फसाड लाइटों से रोशन हो रहे हैं. अस्सी घाट समेत छह स्थानों पर अहमदाबाद की तर्ज पर फूड स्ट्रीट खोले जा रहे हैं. सांस्कृतिक गतिविधियां तेज हो गई हैं. राजघाट पर 20 से 23 जनवरी तक गंगा महोत्सव होगा.