- समर वोकेशन में लखनऊ घूमने आने वाले लोगों को विशेष सिटी बस की सुविधा

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

चौक का प्रसिद्ध देवकाली मंदिर हो या फिर ऐतिहासिक बड़ा इमामबाड़ा. अब इन सभी स्थलों की सैर सिटी बस अप्रैल के अंतिम सप्ताह से कराएगी. ऐसी धार्मिक और ऐतिहासिक जगहों पर जाने के लिए चारबाग से यात्रियों विशेष सिटी बस की सुविधा मिलेगी. यात्री इस सुविधा का लाभ गर्मी के सीजन में उठा सकते हैं.

बड़ी संख्या में आते हैं लोग

सिटी बस प्रबंधन के अनुसार हर साल समर वोकेशन में राजधानी घूमने के लिए बड़ी संख्या में लोग यहां आते हैं. ऐसे लोगों को धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व के स्थानों तक जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. कई-कई जगह साधन बदलने पड़ते हैं. जिसमें उनका काफी समय वेस्ट होता है. यात्रियों की इस समस्या को ध्यान में रखते हुए सिटी बस प्रबंधन लोगों को नवाबों के शहर की सैर सुविधाजनक तरीके से कराने की तैयारी कर रहा है. खास बात यह है कि विभिन्न धार्मिक और ऐतिहासिक स्थलों के लिए जो बसें चलाए जाने की योजना है, उनका किराया भी सामान्य बसों की तरह ही लिया जाएगा.

डिमांड के साथ बढ़ेंगी बसें

शुरुआती दौर में इस व्यवस्था के तहत एक दर्जन सिटी बसें चलाई जाएंगी. डिमांड बढ़ने पर इसमें इजाफा किया जा सकता है. सिटी बस प्रबंधक के अधिकारियों के अनुसार सिर्फ बाहर से आने वाले पर्यटक ही नहीं राजधानी के लोग भी इस सुविधा का लाभ उठाएंगे. यह योजना राजधानी में टूरिज्म को बढ़ावा देने का काम भी करेगी.

धार्मिक स्थलों की करें सैर

चौक के देवकाली और कोनेश्वर मंदिर, एलयू के निकट स्थित मनकामेश्वर मंदिर, बीकेटी में चंद्रिका देवी, अलीगंज का हनुमान मंदिर, हनुमान सेतु मंदिर, राजाजीपुरम में बुद्धेश्वर मंदिर, कैसरबाग स्थित काली बाड़ी मंदिर के लिए सिटी बसों का संचालन किया जाएगा.

देखें ये ऐतिहासिक स्थल

ऐतिहासिक स्थलों में लखनऊ का बड़ा इमामबाड़ा, छोटा इमामबाड़ा, नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान, काकोरी, रेजीडेंसी, शहीद स्मारक को इस योजना में शामिल किया गया है. इन सभी जगहों के लिए चारबाग से बसें संचालित की जाएंगी. पहली बस सुबह साढ़े सात बजे रवाना की जाएगी.

सामान्य यात्रियों के लिए

इन बसों में सामान्य यात्री भी सफर कर सकेंगे. जिन-जिन रूट से ये बस गुजरेगी, वहां के यात्रियों को इसमें सफर की सुविधा मिलेगी. इसके लिए इन यात्रियों को सामान्य किराया ही देना होगा.

अभी इनके रूट का सर्वे चल रहा है. जल्द ही इसे फाइनल कर किराया भी डिसाइड कर लिया जाएगा. पहले चरण में 12 बसें चलाए जाने की योजना है. बसें किस समय चलेंगी यह भी रूट सर्वे के बाद तय किया जाएगा.

डीके गर्ग

एआरएम, गोमती नगर

सिटी बस प्रबंधन