- नगर आयुक्त ने संजय नगर और सुरेश शर्मा नगर का किया निरीक्षण

-रेता-बजरी वालों से वसूला जुर्माना, कइयों को जारी की चेतावनी

बरेली : नगर निगम ने नाला चोक करने वालों के खिलाफ ट्यूजडे को बड़ी कार्रवाई की। नगर आयुक्त को निरीक्षण के दौरान नाला चोक मिला तो उन्होंने मिठाई की दुकान को सील किया। सड़क किनारे रेता-बजरी बेचने वालों पर मोटा जुर्माना लगाया। साथ ही नाले में कूड़ा डालने वाले व गंदगी फैलाने वालों को कड़ी चेतावनी भी दी। उन्होंने नाला पाटने वालों को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया।

दुकानें सील, लगाया जुर्माना

नगर आयुक्त ने मंगलवार सुबह वार्ड 16 संजय नगर और वार्ड 65 सुरेश शर्मा नगर का निरीक्षण किया। कई स्थानों पर स्लैब से नाले बंद किए हुए थे और नालों में बेतहाशा गंदगी थी। उन्होंने स्लैब तोड़कर नाले साफ करने के निर्देश दिए। बंसल स्वीट्स की दुकान के आगे नाले में जबरदस्त कूड़ा था। कूड़े के कारण नाला चोक हो गया था। इस पर नगर आयुक्त ने व्यापारी पर पचास हजार जुर्माना लगाने के निर्देश दिए और दो दुकानों पर सील किया। बाद में महापौर के कहने पर नगर आयुक्त ने मात्र तीन हजार रुपये जुर्माना लगाकर सील खोलने के निर्देश दिए।

गंदगी देख दी चेतावनी

सड़क किनारे अतिक्रमण कर रेता-बजरी बेचने वाले सांई बिल्डिंग मैटेरियल व सिंह बिल्डिंग मैटेरियल के मालिकों से पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना वसूलने के निर्देश दिए। सिटी हार्ट लॉन के आसपास गंदगी होने पर उसे चेतावनी दी। खुशी बैंक्वेट हॉल, गंगा सागर बिल्डिंग मैटेरियल संचालकों को कार्रवाई के लिए चेताया।

पालिका बाजार पर वसूला जुर्माना

नगर निगम की पीछे पालिका बाजार में सड़क पर किए गए अतिक्रमण की सूचना पर नगर निगम की टीम सोमवार को वहां रखा सामान उठाकर ले आई थी। मंगलवार सुबह से ही दुकानदारों ने अपना सामान वापस लेने के लिए नगर निगम के चक्कर लगाने शुरू कर दिए। टैक्स विभाग की टीम ने बाद में दस दुकानदारों से पांच-पांच सौ रुपये जुर्माना वसूलकर सामान छोड़ा।

टीम ने खाली कराई सरकारी जमीन

मिनी बाईपास पर कुछ लोगों ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर नर्सरी बना ली थी। मामले की शिकायत मिलने पर नगर आयुक्त ने मंगलवार को अतिक्रमण टीम प्रभारी ललतेश सक्सेना को टीम के साथ वहां भेजा। नगर निगम ने उस स्थान को निर्माण विभाग का कार्यालय बनाने के लिए चुन रखा था। टीम ने वहां पहुंचकर किया गया कब्जा हटा दिया। टीम में जयपाल सिंह पटेल, शमशुल हसन, हरीश भारती, हीरा लाल, आनंद स्वरूप आदि शामिल रहे।

स्लैब हटाकर कराई नाले की सफाई

सफाई निरीक्षक संजीव उपाध्याय ने टीम के साथ सर्किट हाउस तिराहे से एसएसपी आवास होते हुए आगे मोड़ से अक्षर विहार तालाब को जा रहे नाले की सफाई करवाई। नाला साफ करवाने से एक दिन पहले वहां नाले पर रखे स्लैब तोड़े गए। स्कूल के सामने जल निकासी चोक कर रहे ह्यूम पाइप को निकलवाया था। खलील स्कूल के सामने भी टीम नाले की सफाई में जुटी रही।