-2 घंटे की तेज बारिश से जलमग्न हुआ शहर

-पहली बारिश में खुली नगर निगम की पोल

मेरठ: बुधवार की दोपहर हुई तेज बारिश और आंधी में शहर बेहाल हो गया. कई स्थानों पर पेड़ उखड़ गए तो कई जगह होर्डिंग टूट कर गिर गए. 2 घंटे लगातार बारिश से शहर जलमग्न हो गया, ओडियन नाले के अलावा कई अन्य हिस्सों में घरों में नाले का गंदा पानी भर गया. मानसून की दस्तक और पहली तेज बारिश ने नगर निगम की तैयारियों की पोल खोल दी.

आवाम हलकान

दोपहर 2 बजे शुरू हुई बारिश और तेज हवाओं से शहर में कई स्थानों पर पेड़ उखड़ने और होर्डिंग टूटने से लोगों को भारी मुसीबत का सामना करना पड़ा. जेलचुंगी से सूरजकुंड को जाने वाले मार्ग पर विक्टोरिया पार्क के निकट नीम का एक विशालकाय पेड़ टूट कर सडक के बीचोंबीच गिर गया. पेड़ के टूटने से सडक के दोनों ओर जाम लग गया. मौके पर पहुंचे नगर निगम के कर्मचारियों ने पेड़ की डाल को काटकर यातायात सुचारू करने का प्रयास किया. वहीं शहर में अन्य कई स्थानों पर भी पेड़ गिरने से बिजली के तार टूट गए. आलम यह रहा कि देर रात्रि तक ज्यादातर हिस्सों में बिजली सप्लाई ठप रही.

घरों में घुसा पानी

ओडियन नाले, आबू नाले से सटे इलाकों में तेज बारिश से जमकर जलभराव हुआ और लोगों के घरों में पानी भर गया. नाले के गंदे 2-2 फीट पानी के बीच लोग परिवार के साथ रह रहे हैं. सराय लालदास, ईश्वरपुरी में लोगों के घरों में पानी भर गया. इसके अलावा थापर नगर, वेस्टर्न कचहरी रोड, दिल्ली रोड, हापुड अड्डा, बेगमबाग, सोतीगंज, सदर, इस्लाम नगर, नूरनगर आदि शहर के हिस्सों में जमकर जलभराव हुआ. बंद पड़ी नालियां ध्वस्त हो गई तो कई स्थानों पर नाले भी क्षतिग्रस्त हो गए. शहर के पुराने हिस्से में मकान ढहा, जिससे आसपास रह रहे लोग बाल-बाल बचे.

पार्षद ने नगरायुक्त को घेरा

पार्षद विजय आनंद अग्रवाल ने जलभराव के विरोध में शाम नगरायुक्त मनोज कुमार चौहान को घेराव किया. भाजपा पार्षदों ने ओडियन नाले की समस्या पर नगर निगम के अधिकारियों से सवाल-जबाव किया. लोगों के घरों में भरे पानी के वीडियो और फोटो नगरायुक्त को दिखाए. नगरायुक्त ने अधिशासी अभियंता मोइनुद्दीन के नेतृत्व में एक कमेटी गठित की है. कमेटी 7 दिन में ओडियन नाले से हो रहे जलभराव पर अपनी रिपोर्ट देनी साथ ही उन स्थानों को चिह्नित करेगी जहां जलभराव हो रहा है. कई स्थानों पर नाले को उठाया जाएगा.

सोशल मीडिया पर थू-थू

पहली बड़ी बारिश में जमकर नगर निगम के दावों की पोल खुली तो वहीं सोशल मीडिया में भी जमकर थू-थू हो रही है. लोगों ने सोशल साइट्स पर जलभराव के फोटो और वीडियो अपलोड किए हैं. कई स्थानों पर लोगों ने सोशल साइट्स के माध्यम से कड़ी प्रतिक्रिया भी व्यक्त की है.