- प्रमुख मार्गो से लेकर गली-मोहल्लों में नजर आता है तारों का मकड़जाल

- प्रियंका के रोड शो में भी तार बने थे बाधक, हादसे के साये में गुजरते हैं लोग

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW: एक तरफ तो शहर को स्मार्ट बनाने के लिए हर स्तर पर कवायदें की जा रही हैं, वहीं दूसरी तरफ हकीकत यह है कि स्मार्ट सिटी की पटरी पर दौड़ते शहर में हर कदम पर बिजली के तारों का मकड़जाल सा नजर आता है. जिससे स्पष्ट हो जाता है कि सही मायनों में शहर कितना स्मार्ट बन रहा है. बिजली के तारों को अंडरग्राउंड करने के लिए कई बार योजनाएं तो बनीं लेकिन योजनाओं को धरातल पर क्रियांवित नहीं किया जा सका. जिसकी वजह से समस्या जस की तस बनी हुई है. परिणामस्वरूप हजारों लोगों को हादसे के साये में अपनी मंजिल तय करनी पड़ रही है.

रोड शो में बना था बाधक

हाल में ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने एयरपोर्ट से लेकर कांग्रेस कार्यालय तक रोड शो किया था. जैसे ही वे लोग हुसैनगंज चौराहे पहुंचे थे, उनके रोड शो की रफ्तार में ब्रेक लग गई थी. इसकी वजह बना था तारों का मकड़जाल. अभी तो चुनावी घमासान शुरु हुआ है, ऐसे में आने वाले दिनों में राजनीतिक पार्टियों के धुरंधर रोड शो करेंगे, ऐसे में सबसे बड़ा सवाल है उनकी सुरक्षा का.

पुराने इलाकों में स्थिति खराब

शहर के पुराने इलाकों की बात करें तो हुसैनगंज, चौक, बांसमंडी, लालकुआं, अमीनाबाद इत्यादि इलाकों में स्थिति बेहद खराब है. इन इलाकों में जाकर तारों के मकड़जाल की भयावहता को देखा जा सकता है. तारों के मकड़जाल के कारण रोजाना स्पार्किग भी होती है, जिससे तारों के नीचे से गुजरने वाले लोगों की जिंदगी खतरे में रहती है.

मार्केट एरिया भी घेरे में

शहर के अगर प्रमुख मार्केट एरिया की बात करें तो भूतनाथ मार्केट, अमीनाबाद मार्केट, लाटूश रोड इत्यादि मार्केट में खरीदारी करने आने वाले लोग भी हर पल खतरे के आगोश में रहते हैं. इसकी वजह है मार्केट एरिया में जगह-जगह तारों का मकड़जाल. तेज हवाएं चलने पर तो स्थिति और भी ज्यादा डरावनी हो जाती है. कई बार तो तार टूटकर नीचे सड़क पर गिर जाते हैं. संयोग से कोई बड़ा हादसा तो नहीं हुआ है लेकिन इसकी अनदेखी भी नहीं की जा सकती है.

लाइन होती ट्रिप

तारों के मकड़जाल के कारण जनता को बिजली संकट का भी सामना करना पड़ता है. इसकी वजह यह है कि तारों का मकड़जाल होने के कारण तार आपस में टकराते हैं, जिसकी वजह से रोजाना कहीं न कहीं एक दो तार टूट जाते हैं, परिणामस्वरूप संबंधित इलाके के लोगों को बिजली संकट का सामना करना पड़ता है.

वर्जन

हर तरफ तारों के गुच्छे लटके नजर आते हैं. इसकी वजह से खासी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इस समस्या को दूर किया जाना चाहिए.

देवेंद्र गुप्ता, अध्यक्ष, भूतनाथ व्यापार मंडल

मार्केट एरिया में तारों के मकड़जाल की समस्या है. इसकी वजह से मार्केट आने वाले लोगों को परेशानी होती है.

अशोक मोतियानी, अध्यक्ष, लखनऊ कपड़ा व्यापार मंडल एसो.

बेतरतीब ढंग से पड़े तारों को हटाने के लिए योजनाएं तो बनी है लेकिन अभी तक कोई क्रियांवित नहीं हो सकी.

सुरेश छबलानी, अध्यक्ष, अमीनाबाद व्यापार मंडल

तारों का मकड़जाल हटाया जाना बेहद जरूरी है. इसकी वजह से हादसे होने का खतरा बना रहता है.

सैफ उस्मानी, खदरा

बोले जिम्मेदार

तारों के मकड़जाल संबंधी मामले सामने आए हैं. सभी को निर्देश दिए गए हैं कि अपने-अपने क्षेत्र में ऐसे प्वाइंट चिन्हित करें, जहां तारों संबंधी समस्या है. इसके बाद इनके निस्तारण को लेकर कार्य योजना तैयार कराई जाएगी.

संजय गोयल, एमडी, मध्यांचल डिस्कॉम