दैनिक जागरण आई नेक्स्ट एक्सक्लूसिव

-कानपुर में सीवरेज और वाटर सप्लाई की योजनाओं के लिए नगर निगम को लेना पड़ेगा लोन

-नगर निगम की वित्तीय हालत खराब होने के चलते लिया जा रहा है लोन, सदन में प्रस्ताव पास

kanpur@inext.co.in

KANPUR : पिछले एक साल से नगर निगम आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है. इस कदर आर्थिक संकट है कि कर्मचारियों की सैलरी भी विकास कार्यो के लिए आए धन से दी जा रही है. इसी के चलते अब योजनाओं को पूरा करने के लिए नगर निगम को 96 करोड़ रुपए का लोन विभिन्न योजनाओं के लिए लेना पड़ रहा है. सदन में इसे पास भी कर दिया गया है. बताते चले कि 14वें वित्त आयोग से लगभग 47 करोड़ रुपए की धनराशि मिली, जिससे वार्डो व अन्य विकास कार्यो के लिए प्रस्तावित योजनाओं में खर्च किया गया. हाउस टैक्स की वसूली आदि कम होने पर नगर निगम की माली हालत में कोई सुधार होता नहीं दिख रहा है.

बिना ब्याज का लिया जाएगा लोन

राज्य सरकार द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर विकास योजना के अंतर्गत निकायों को योजनाओं के लिए ब्याज रहित ऋण दिया जाता है. इसी के अंतर्गत नगर निगम को अमृत की विभिन्न योजनाओं के लिए लोन दिया जाएगा. नगर निगम सदन में लोन का प्रस्ताव पास होने के बाद इसे शासन को भेज दिया गया है.

योजनाएं शहर के लिए 'अमृत'

जेएनएनयूआरएम के तहत कानपुर में पेयजल और सीवरेज पर काफी कार्य किया गया. अब भी कार्य चल रहा है. केंद्र सरकार ने इस योजना को खत्म कर अमृत योजना के अंतर्गत सीवरेज और वाटर सप्लाई के तहत कार्य करना शुरू किया. इसके अंतर्गत शहर में डिस्ट्रिक्ट-4 योजना में घरों तक सीवरेज कनेक्शन, सीवरेज कनेक्शन का एक्सपेंशन, डिस्ट्रिक्ट-3 में घरों तक सीवर कनेक्शन, बिनगवां में बन रहे एसटीपी के लिए निकाय के पास कोई धनराशि उपलब्ध नहीं होने के चलते सभी योजनाओं को रोक दिया गया है. केंद्र और स्टेट गवर्नमेंट द्वारा दिए गए बजट पर ही यह योजनाएं अभी तक चल रही थीं.

------------

इन योजनाओं में इतना धन

अमृत मिशन के अंतर्गत सीवरेज योजना

योजना लोन की राशि कुल लागत

सीवरेज डिस्ट्रिक्ट-4 हाउस होल्ड कनेक्शन 8.87 करोड़ 29.59 करोड़

एक्सपेंशन ऑफ सीवर नेटवर्क 18.70 करोड़ 62.35 करोड़

सीवर नेटवर्क डिस्ट्रिक्ट-3 हाउस होल्ड 33.67 करोड़ 112.25 करोड़

एसटीपी बिनगवां में सुरक्षा कार्य 13.02 करोड़ 44 करोड़

अमृत मिशन के अंतर्गत वाटर सप्लाई योजना

योजना लोन की राशि कुल लागत

पेयजल योजना फॉर ईस्ट सर्विस डिस्ट्रिक्ट 15.02 करोड़ 50.07 करोड़

पेयजल योजना फॉर साउथ सर्विस डिस्ट्रिक्ट 15.67 करोड़ 52.23 करोड़

गंगा बैराज से भैरवघाट तक कन्वेंस लाइन 27 करोड़ 90.2 करोड़

----------------

''अमृत योजना में निकाय को 30 परसेंट धनराशि देनी थी, लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से लोन का प्रस्ताव दिया गया था. जो सदन में पास होने के बाद शासन को भेज दिया गया है.''

आरके अग्रवाल, जीएम, जल निगम.