- मानदेय नहीं मिलने पर सफाई कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार

GORAKHPUR: दो महीने से मानदेय नहीं मिलने से नाराज नगर निगम के आउटसोर्सिग सफाई कर्मचारी रविवार को कार्य बहिष्कार कर हड़ताल पर चले गए. अलग-अलग वार्डो में तैनात इन सफाई कर्मचारियों की संख्या एक हजार बताई जा रही है. सफाई कर्मचारियों का कहना है कि पैसों के अभाव में उन्हें काफी परेशानी हो रही है और जब तक पैसे नहीं मिलते वह काम नहीं करेंगे. आउटसोर्सिग कर्मचारियों की इस हड़ताल का प्रभाव शहर के 36 वार्डो पर पड़ा, इन वार्डो में कहीं भी सफाई नहीं हो पाई. यह सभी कर्मचारी मेसर्स विशाल प्रोडक्शन फोर्स के निर्देशन में शहर की सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने का काम कर रहे थे. हालांकि कंपनी के एजेंट के अनुसार पेमेंट की प्रक्रिया चल रही है और जल्द कर्मचारियों को पेमेंट कर दिया जाएगा.

न उठा कूड़ा, न हुई सफाई

झरना टोला, दिलेजाकपुर, सिविल लाइंस, पुर्दिलपुर, दाउदपुर, नौसड़, जाफरा बाजार, दीवान बाजार, मियां बाजार सहित नगर निगम 36 वार्डो की सफाई रविवार को बुरी तरह प्रभावित हो गई. सभी वार्डो में कहीं भी न तो कूड़ा उठा और न ही सफाई हुई. कूड़ा सड़क पर ही बिखरा रहा. सफाई कर्मियों ने यह कहकर हड़ताल कर दी कि उन्हें दो माह से वेतन नहीं मिला है. कर्मचारियों ने स्पष्ट कहा कि जब तक वेतन नहीं मिलेगा कार्य नहीं किया जाएगा. वार्ड नंबर 14 झरना टोला में कर्मचारियों ने एकजुट होकर प्रदर्शन भी किया. नगर निगम के अधिकारियों एवं कंपनी के जिम्मेदारों ने सफाई कर्मियों को मनाने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने.

वर्जन

महीने की 7-10 तारीख के बीच कर्मचारियों का वेतन उनके खाते में भेजा जाता है. अगस्त से हम लोगों ने कार्य शुरू किया है इसलिए कागजी कार्रवाई में कुछ समय लग रहा है. सोमवार शाम तक खाते में कर्मचारियों का वेतन पहुंच जाएगा.

- जयप्रकाश सिंह, ऑपरेशन हेड, विशाल प्रोडक्शन फोर्स

कर्मचारियों का खाता नंबर अपडेट हो गया है. दो दिनों के भीतर अगस्त माह का वेतन भेज दिया जाएगा. जबकि जुलाई माह का वेतन पुरानी फर्म देगी. इसके लिए फर्म को नोटिस दी गई है.

- प्रेम प्रकाश सिंह, नगर आयुक्त