- ग्रामीण इलाकों में आग बुझाने में मिलेगी मदद

द्यह्वष्द्मठ्ठश्र2@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

रुष्टयहृह्रङ्ख: सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में 62 नए फायर स्टेशन खोलने के निर्देश दिये हैं. इनके खुलने से आग लगने की घटनाओं पर समय से प्रभावी नियंत्रण हो सकेगा. प्रदेश में फिलवक्त फायर स्टेशनों की संख्या 286 है. सरकार की मंशा सभी 350 तहसीलों में फायर स्टेशन खोलने की है. नए केंद्रों के खुलने से इनकी संख्या बढ़कर 348 हो जाएगी.

फसलों की क्षति पर लगेगी लगाम

गौरतलब है कि गर्मी में खासकर गेहूं की कटाई के सीजन में आग लगने की घटनाएं आम हैं. कभी-कभी तो इनसे बड़े पैमाने पर जन-धन की क्षति होती है. आग लगने की स्थिति में पीडि़त फायर कंट्रोल रूम को सूचना तो दे देते थे लेकिन, फायर स्टेशन दूर होने की वजह से जब तक फायर टेंडर मौके पर पहुंचती थीं, तब तक खासा नुकसान हो चुका होता है. जिन फायर स्टेशनों के खोलने को सीएम ने मंजूरी दी है, वे ग्रामीण क्षेत्रों में ही खोलने की योजना है. अब इनके खुलने से आग की घटनाओं से होने वाली क्षति को काफी हद तक कम किया जा सकेगा.