-शहीद पंकज त्रिपाठी के घर पहुंचे सीएम योगी, परिजनों को बंधाया ढांढस

-सोमवार को देवरियों में शहीद विजय कुमार मौर्या के परिजनों से करेंगे मुलाकात

GORAKHPUR@inext.co.in
GORAKHPUR: सीएम योगी आदित्यनाथ जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद सैनिक पंकज त्रिपाठी के घर पहुंचे। महराजगंज जिले के हरपुर गांव के टोला बेलहिया स्थित पैतृक घर पहुंच कर उन्होंने परिजनों को ढांढस बंधाया। रविवार शाम करीब चार बजे पहुंचे सीएम को देखने के बाद परिवार की आंखें नम हो गई। शहीद सैनिक को श्रद्धासुमन अर्पित करने के बाद परिजनों के बीच पहुंचे सीएम ने कहा कि देश वीर सैनिकों व उनके परिजनों के साथ खड़ा है। सोमवार को सीएम देवरिया जाकर शहीद विजय कुमार मौर्या के परिजनों से मुलाकात करेंगे और श्रद्धांजलि देंगे.

जहां भी छिपे होंगे ढूंढ निकालेंगे
सीएम ने कहा कि जिसने भी घटना को अंजाम दिया है, उनकी उल्टी गिनती शुरू हो गई है। वहीं जो इस घटना में किसी तरह से भी शामिल हैं, उनको बख्शा नहीं जाएगा। इस घटना के जिम्मेदार आतंकियों को सरकार खोज निकालेगी, उन्हें कड़ी सजा मिलेगी। पंकज त्रिपाठी आज हमारे बीच भले नहीं हैं, लेकिन उनकी शहादत समाज को प्रेरणा देती रहेगी। सरकार हर सैनिक के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि हमें परिजनों के प्रति संवेदना है। मुख्यमंत्री ने शहीद के पिता ओम प्रकाश त्रिपाठी, माता सुशीला देवी, पत्नी रोहिणी व बेटे प्रतीक से मुलाकात कर कहा कि देश को पंकज त्रिपाठी पर गर्व है।

स्मृतियों को बताएंगे जीवंत
सीएम ने कहा कि प्रदेश और केंद्र की सरकार देश के शहीदों के सम्मान में कभी भी पीछे नहीं है। उनकी स्मृतियां जीवंत बनाने के लिए काम किए जा रहे हैं। केंद्र सरकार और उनके विभाग जो काम कर रहे हैं, उसके अलावा प्रदेश के शहीदों के लिए राज्य सरकार की ओर से 25-25 लाख रुपए, परिवार के एक सदस्य को नौकरी, गांव के पहुंच मार्ग को शहीद के नाम पर करने के साथ ही उसकी स्मृतियों को बनाए रखने के लिए वहां अनेकों कार्यक्रम भी कराए जाएंगे। इस दौरान सांसद, विधायक के साथ प्रशासनिक अधिकारी और मुकामी लोग मौजूद रहे।