संकट मोचन मंदिर में किया दर्शन-पूजन

गड़वा घाट के गायों को खिलाया गुड़ और केला

VARANASI

निर्वाचन आयोग से तीन दिनों तक चुनाव प्रचार-प्रसार की पाबंदी के अंतिम दिन गुरुवार को यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काशी पहुंचे और दर्शन-पूजन किया। योगी ने संकट मोचन मंदिर में बजरंग बली का दर्शन किया। इसके बाद गड़वा घाट मठ में गो सेवा की। अनाथ आश्रम, हॉस्पिटल का भ्रमण करने के साथ पूर्व मेयर अमरनाथ का हालचाल लिया।

पूरी की दर्शन की इच्छा

चुनाव आयोग की ओर से 72 घंटे तक चुनाव प्रचार पर रोक लगाने के बाद योगी आदित्यनाथ बजरंग बली के मंदिरों में पहुंच कर हनुमान चालीसा का पाठ कर रहे हैं। इसी क्रम में तीसरे दिन गुरुवार को योगी ने संकट मोचन मंदिर में मत्था टेका। मंदिर में उनका स्वागत महंत विश्वंभर नाथ मिश्रा और डॉ। वीएन मिश्रा ने किया। योगी ने महंत परिवार से बातचीत करते हुए कहा कि मेरी बहुत दिनों से बजरंग बली के दरबार में आने की इच्छा थी।

संतों को किया नमन

संकट मोचन मंदिर में दर्शन के बाद मुख्यमंत्री योगी गड़वा घाट मठ पहुंचे। गौशाला में गायों को गुड़ और केला खिलाया। आश्रम में संतों को नमन किया। संत सरनानंद से मुलाकात की। यहां योगी को अंगवस्त्र और रुद्राक्ष की माला पहनाकर स्वागत किया गया।

मरीजों की उतारी आरती

गड़वाघाट से सीएम का काफिला रामकृष्ण सेवा मिशन अस्पताल पहुंचा। यहां योगी ने मरीजों का हालचाल लेने के साथ ही उनकी आरती उतारते हुए शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की।

सामनेघाट क्षेत्र के मदरवां स्थित गंगा किनारे बसे अपना घर आश्रम परिसर में पहुंचकर सीएम ने गंगा मंदिर में दर्शन किया। यहां रह रहे 35 अनाथ बच्चों से मुलाकात की।

अपनों को मनाने पहुंचे योगी

मुख्यमंत्री योगी कई दिनों से अस्वस्थ चल रहे पूर्व मेयर अमरनाथ यादव से मिलने उनके जैतपुरा स्थित आवास पर पहुंचे। उनका हालचाल पूछा और कहा कि आपका उपचार पीजीआई में करवाया जाएगा। बच्चों ने फोटो खिंचवाने के लिए कहा, तो योगी ने इच्छा पूरी की। जाते वक्त सर्किट हाउस में संगठन के पदाधिकारियों के साथ वार्ता में मोदी के नामांकन की तैयारियों को जाना। इस दौरान जरूरी सुझाव दिए।