-आरटीए की बैठक में कमिश्नर ने बढ़ाई सीएनजी वाहनों की समय सीमा

-आधार कार्ड से लिंक होंगे परमिट के आवेदक

- 15 साल तक संचालित हो सकेंगे सीएनजी के टैम्पो-टैक्सी व ऑटो

- 12 से अब 15 साल तक बढ़ाया गया सीएनजी बसों का समय

मेरठ: सीएनजी ईधन से संचालित टैम्पो-टैक्सी व ऑटो रिक्शा की आयु सीमा 10 वर्ष से बढाकर 15 वर्ष कर दी गई है तो वहीं बसों की उम्र अब 12 से बढ़ाकर 15 साल कर दी गई है. मंगलवार को संभागीय परिवहन प्राधिकरण (आरटीए) की बैठक में अथॉरिटी के अध्यक्ष एवं कमिश्नर डॉ. प्रदीप कुमार ने यह घोषणा की. बैठक में डग्गामार वाहनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश कमिश्नर ने दोहराए.

डग्गेमार वाहनों पर शिकंजा

बैठक में कमिश्नर ने कहा कि परमिट का आवेदन करने वालों को आधार कार्ड से लिंक करें. डग्गामार व बिना परमिट के चल रहे वाहनों पर कार्रवाई करें. इसके अलावा गाड़ी में ज्यादा सवारी बैठाने पर कर्रवाई की जाए. बैठक में उप परिवहन आयुक्त मेरठ परिक्षेत्र ए.के पाण्डेय आदि सहित प्रशासनिक अफसर मौजूद थे.

इनसेट

चेक करें गुणवत्ता

मेरठ : आयुक्त सभागार में सड़कों को गड्ढा मुक्त करने, निर्माण कार्यो व श्रम विभाग के कार्यो की समीक्षा बैठक में कमिश्नर ने अफसरों आदेश दिए कि वे कमेटी गठित कर निर्माण कार्यो की जांच करें. निर्माण कार्यों की गुणवत्ता व समयबद्धता पर विशेष ध्यान दिया जाए. उन्होंने कहा कि जनउत्थान में अपनी सहभागिता दर्ज कराएं. जेडीसी एबी मिश्रा ने सड़कों की स्थिति के बारे में जानकारी दी. बैठक में अधिशासी अभियंता टीएसी देवेन्द्र बालियान, परियोजना प्रबंधक सीएनडीएस जीके शर्मा, उप श्रमायुक्त सरजू राम शर्मा आदि मौजूद थे.