- चार घंटे की घोषित और चार घंटे की अघोषित कटौती

- अनपरा ग्रिड में खराबी से दो दिन और बढ़ेगा बिजली संकट

meerut@inext.co.in

Meerut : सर्दियों में लोड कम होने के बाद भी मेरठ की पब्लिक को भारी बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है. कोयला कर्मियों की हड़ताल और अनपरा ग्रिड में खराबी से ये आफत बुधवार से और भी ज्यादा बढ़ गई है. जहां पिछले दिनों से चार से छह घंटे की कटौती हो रही थी, अब वो बढ़कर आठ घंटे की कटौती हो रही है. वहीं ओस भी बिजली कटौती में फॉल्ट के तौर पर जले पर नमक का काम कर रही है. आइए आपको बताते हैं आखिर पब्लिक को कटौती क्यों झेलनी पड़ रही है.

इसलिए हो रही है कटौती

कोल इंडिया के कर्मियों की हड़ताल से देश में कोयला संकट गहरा गया है. इससे ग्रिड को होने वाली कोयला आपूर्ति प्रभावित हुई है. इसके अलावा अधिकारियों ने बताया किअनपरा ग्रिड में खराबी आने से भी बिजली की दिक्कत हो रही है. जिसकी वजह से लोगों को चार घंटे की अतिरिक्त कटौती का सामना करना पड़ रहा है. मेरठ में सुबह भ्-7 बजे तक लोकल कटौती हो रही है और रात 9 बजे से रात क्क् बजे तक डेली कुल चार घंटे की कटौती हो रही है. वहीं वहीं ओस के कारण भी लोकल फॉल्ट में बढ़ोत्तरी हो रही है. अधिकारियों की मानें तो रेग्यूलेटर में ओस का पानी से स्पार्किंग होने से फॉल्ट हो रहा है.

कुछ दिन और रहेगी परेशानी

अभी कुछ दिन और अतिरिक्त बिजली कटौती का सामना लोगों को सहना पड़ सकता है. कोल इंडिया के कर्मी पांच दिनों की हड़ताल पर हैं, एसई अर्बन पीके निगम के अनुसार अनपरा ग्रिड पर काम चल रहा है. पीके निगम ने बताया कि अनपरा ग्रिड के अलावा कोयला कंपनियों की हड़ताल की वजह से कोयला उपलब्ध नहीं हो पा रहा है. जिसके कारण बिजली बनाने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.