bareilly@inext.co.in

BAREILLY:
बीएड में एडमिशन के लिए फ‌र्स्ट राउंड की काउंसलिंग प्रक्रिया ट्यूजडे को क्लोज हो जाएगी। इसके बाद सेकंड राउंड में एक लाख 21 हजार कैंडिडेट 19-21 जून तक कॉॅलेज सेलेक्ट कर सकेंगे। इसके बाद छूटे हुए कैंडिडेट को पूल काउंसंिलग में ही मौका मिलेगा। लेकिन इसके लिए कैंडिडेट को रजिस्ट्रेशन कराने के साथ रजिस्ट्रेशन फीस भी जमा करनी होगी।

छूटे कैंडिडेट्स को भी मौका

प्रो। बीआर कुकरेती ने बताया कि फ‌र्स्ट राउंड काउंसलिंग में करीब 92 हजार कैंडिडेट ने रजिस्ट्रेशन कराया था। इसमें से 80 हजार कैंडिडेट को एमजेपीआरयू ने कॉलेज अलॉटमेंट लेटर जारी कर दिए हैं, जबकि 12 हजार कैंडिडेट ऐसे थे जिन्होंने कॉलेज सेलेक्शन नहीं फिल किया था या फिर पंसद का कॉलेज नहीं मिल सका, उन्हें भी सेकंड राउंड की काउंसलिंग में कॉलेज सेलेक्शन का दोबारा मौका दिया गया है। जबकि सेकंड राउंड की काउंसलिंग के लिए एक लाख 9 हजार कैंडिडेट ने रजिस्ट्रेशन कराया था।

नहीं जमा हो सकी फीस
फ‌र्स्ट राउंड की काउंसलिंग में जिन कैंडिडेट्स को ऑनलाइन कॉलेज अलॉट हुए थे उन्हें 15 जून तक एडमिशन फीस 46250 रुपए जमा करनी थी। कैंडिडेट का आरोप है कि 15 जून को दोपहर बाद घंटों सर्वर ठप रहा। जिस कारण सैकड़ो कैंडिडेट फीस सबमिट नहीं कर सके। इसकी शिकायत कई कैंडिडेट्स ने आरयू के टोल फ्री नम्बर पर भी की है। वहीं कैंडिडेट की शिकायत मिलने पर बीएड प्रवेश परीक्षा को-आर्डिनेटर ने समाधान निकालने का भरोसा दिया है, लेकिन अभी कोई निर्णय नहीं लिया जा सका।

27 जून से होगी पूल काउसंलिंग
फ‌र्स्ट सेकंड राउंड की काउंसलिंग के दौरान जो कैंडिडेट किसी कारण काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग नहीं ले सके। उनके लिए पूल काउंसलिंग में मौका दिया जाएगा। पूल काउंसलिंग के लिए 27-29 जून तक रजिस्ट्रेशन होंगे।

दो बार फीस जमा हो गई
सर्वर डाउन होने से कॉलेज फीस जमा कर रहे कैंडिडेट को प्रॉब्लम फेस करनी पड़ रही है। आरयू में मंडे को एक साथ सात ऐसे कैंडिडेट पहुंचे जिन्होंने दो बार फीस जमा कर दी। ऐसे सभी कैंडिडेट्स के पास दो-दो कॉलेज अलॉटमेंट लेटर भी थे। कैंडिडेट्स का कहना था कि उन्होंने जब फीस जमा की तो कोई रिस्पांस नहीं मिला, इस पर उन्होंने फीस जमा करने के लिए दोबारा क्लिक कर दिया। बाद में पता चला कि दोनों बार ही फीस जमा हो गई और एक ही कॉलेज एक ही आईडी के दो-दो कॉलेज अलॉटमेंट लेटर जारी हो गए। प्रो। बीआर कुकरेती ने उन्हें एक्स्ट्रा फीस वापस दिलाए जाने का आश्वासन दिया है।

बीएड की सेकंड राउंड की काउंसलिंग में 1.21 लाख कैंडिडेट्स को कॉलेज सेलेक्शन का मौका दिया गया है। कैंडिडेट कॉलेज सेलेक्ट करते समय अधिक से अधिक कॉलेज सेलेक्ट करें ताकि उन्हें कॉलेज अलॉट हो सकें।

प्रो। बीआर कुकरेती, यूपी बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा को-आर्डिनेटर