- कानपुर में 34 वर्ष पहले दंगों में मारे गए सिखों को मिलेगा इंसाफ

- दंगों की जांच कर रही एसआईटी टीम की मदद के लिए एक कमेटी का गठन कर रही सरकार

kanpur@inext.co.in

kanpur. सिटी में 34 साल पहले हुए दंगों की जांच कर रही एसआईटी की मदद के लिए यूपी सरकार एक और कमेटी का गठन जल्द करने जा रही है. जिससे पीडि़तों को जल्दी इंसाफ मिल जाए. यह बात प्रेस कांफ्रेंस के दौरान राज्यमंत्री सिंचाई, सिंचाई 'यांत्रिक' बलदेव सिंह औलख ने कही. उन्होंने बताया कि गठित की जाने वाली कमेटी में सभी दलों के सिख समुदाय के लोग सम्मलित होंगे. कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने बताया कि जिन मामलों में चार्जशीट नहीं लगी है व बरी हो चुके लोग भी इस जांच के दायरे में आएंगे. इसकी जांच दोबारा की जाएगी.

निष्पक्षता और ईमानदारी से होगी जांच

ट्यूजडे को सर्किट हाउस में कांफ्रेंस के दौरान राज्यमंत्री ने कहा कि 80 के दशक में सरकार और जांच एजेंसी उनकी थी. अगर निष्पक्षता और ईमानदारी से काम होता तो आज यह स्थिति न होती. उन्होंने कहा जिन पीडि़त परिवार को अभी तक 10 गुना मुआवजा नहीं मिला है. उनकी फाइलें भी जल्द क्लियर कराई जाएंगी. पंजाबी अकादमी के सदस्य गुरविंदर छाबड़ा के मुताबिक एसआईटी की सहायता के लिए सीएम स्तर पर जल्द ही एक कमेटी बनाई जाएगी.