पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों पर लाठियां फटकारीं, दो लोग जख्मी

-देहलीगेट थानाक्षेत्र में लेनदेन को लेकर भिड़ गए थे दो पक्ष, जमकर हुई मारपीट

-गिरफ्तारी के विरोध में संप्रदाय विशेष के लोगों ने घेरा थाना, दूसरे पक्ष को भागकर बचानी पड़ी जान

Meerut : शांत पड़ी शहर की फिजा शुक्रवार देर रात्रि सुलग उठी. दो पक्षों में मारपीट के बाद शहर के देहलीगेट थानाक्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव फैल गया. जुआ खेलने के बाद लेनदेन को लेकर हुए विवाद में आरोपियों की गिरफ्तारी से भड़के संप्रदाय विशेष के सैकड़ों की भीड़ ने थाना घेर लिया और धार्मिक नारेबाजी की. स्थिति बिगड़ती देख पुलिस ने लाठी फटकार कर हंगामा कर रहे लोगों को भगाया तो वहीं पुलिस थाने में घिरे दूसरे पक्ष के समर्थन में आए भाजपा नेताओं ने भागकर जान बचाई.

लेनदेन को लेकर विवाद

जानकारी के मुताबिक थाना देहलीगेट क्षेत्र, ईदगाह चौपला के समीप स्थित पत्ता मोहल्ला में रहने वाले राहुल पुत्र गज्जू टेंट वाले, कल्लू पुत्र छुट्टन चाय वाले का चौक मसूद के रहने वाले अतहर पुत्र बाबर और समद पुत्र रईस के बीच लंबे समय से जुए में हार-जीत के बाद रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा है. रात्रि करीब 10:30 बजे चारों का पत्ता मोहल्ले में एक दूसरे से आमना-सामना हुआ तो पैसों को लेकर तगादा किया गया. जिसपर विवाद बढ़ गया और दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई. आसपास मौजूद लोग भी इस झगड़े में कूद पड़े. देखते ही देखते दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडों से मारपीट शुरू हो गई. जानकारी पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले आई. मारपीट में अतहर, राहुल और कल्लू गंभीर रूप से घायल हुए हैं.

थाने में जुटे दोनों पक्ष

घटनाक्रम की जानकारी पर दोनों पक्षों के समर्थक बड़ी संख्या में थाने में एकत्र हो गए. भाजपा महानगर अध्यक्ष करुणेश नंदन गर्ग, भाजपा नेता कमलदत्त शर्मा, विजय आनंद समेत बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर क्षेत्र में हो रही अवैध गतिविधियों और संप्रदाय विशेष के लोगों की भागेदारी की शिकायत पुलिस से की. जानकारी पर थाने पहुंचे एसपी सिटी रणविजय सिंह से भाजपा नेता बातचीत कर ही रहे थे कि बड़ी संख्या में दूसरे संप्रदाय के लोगों ने थाने को घेर लिया. यहां धार्मिक नारेबाजी करते हुए लोगों ने जमकर हंगामा किया, और पथराव शुरू कर दिया. शहर के प्रमुख घंटाघर बाजार में उपद्रवियों ने जमकर हंगामा काटा और राहगीरों के साथ बदसलूकी की.

भागकर बचाई जान

सैकड़ों की संख्या में पहुंचे संप्रदाय विशेष के लोगों से घिर पाकर भाजपा नेताओं ने थाने से भागकर जान बचाई. वहीं दूसरी ओर दबाव बढ़ता देख एसपी सिटी के आदेश के बाद कई थानों की पुलिस ने भीड़ को चारों ओर से घेर लिया और और जमकर लाठी फटकारी. करीब डेढ़ घंटे इस घटनाक्रम में शहर के प्रमुख हिस्सों में अराजकता का माहौल रहा. सड़कों पर धार्मिक नारेबाजी होती रही तो वहीं पुलिस ने थाने के आसपास मौजूद लोगों को लाठी फटकार कर खदेड़ दिया. एसएसपी अखिलेश कुमार के निर्देशन में बड़ी संख्या में पुलिसबल को तैनात कर दिया गया है. पैरा मिलिट्री फोर्स और पीएसी को गश्त के आदेश दिए गए हैं.

मीडिया से बदसलूकी

एक ओर पुलिस उपद्रवियों को खदेड़ रही थी तो वहीं दूसरी ओर घंटाघर और एसएसपी कार्यालय के आसपास बड़ी संख्या में संप्रदाय विशेष के लोगों ने घेराबंदी कर रखी थी. यहां कुछ मीडियाकर्मियों के साथ लोगों ने बदसलूकी की. जानकारी पर बड़ी संख्या में पहुंचे पुलिसबल ने उपद्रवियों को खदेड़. सुरक्षा के मद्देनजर एसपी सिटी ने घंटाघर, रेलवे रोड, खैरनगर, वैलीबाजार, दिल्ली रोड आदि क्षेत्रों में बाजार को बंद करा दिया और पुलिसबल को तैनात कर दिया है.

---