-कांग्रेस, सपा, बसपा, आप व निर्दलों ने किया प्रदर्शन

-गवर्नमेंट पर लोकतंत्र का गला घोटने का लगाया आरोप

varanasi@inext.co.in

VARANASI

मिनी सदन के विवाद को लेकर सोमवार को संयुक्त विपक्षी दलों ने सिगरा स्थित नगर निगम पर प्रदर्शन किया. इस दौरान पार्षदों पर हुए एफआईआर वापस लेने की मांग की. वक्ताओं ने केंद्र व प्रदेश सरकार पर जमकर हल्ला बोला. इसमें कांग्रेस, सपा, बसपा, आम आदमी पार्टी व निर्दल पार्षद समेत पदाधिकारी शामिल हुए और एकता की ताकत का प्रदर्शन किया.

विकास के नाम पर हो रहा छलावा

पूर्व विधायक अजय राय ने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार की तरह निकाय सरकार ने भी लोकतंत्र का गला घोटने का काम किया है. नगर विकास के नाम पर छला जा रहा है. धरने में मौजूद कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि उनके साथ अमानवीय व्यवहार किया गया. सदन का अपमान करते हुए विभिन्न धाराओं में जेल में बंद करा दिया गया. धरना स्थल पर पूर्व सांसद रामकिशुन यादव, कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा, सपा के जिलाध्यक्ष डॉ. पीयूष यादव, वीरेंद्र कपूर, मनींद्र मिश्रा, मुमताज अली बाबर, चंद्रभाल सिंह, शैलेंद्र सिंह, अशोक पांडेय, रामसुधार मिश्र, वरुण सिंह, आलोक यादव आदि उपस्थित रहे. प्रदर्शन के अंत में जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को पांच मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा गया.