- हरीश रावत बोले, लोकतंत्र को बचाने की चुनौती

- लोकसभा चुनाव को लेकर हरदा हुए सक्रिय

dehradun@inext.co.in

DEHRADUN: लोकसभा चुनाव को देखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने अपनी सक्रियता शुरू कर दी है. राज्य के बजट सत्र व पीएम नरेंद्र मोदी के रुद्रपुर दौरे से ठीक पहले पूर्व सीएम हरीश रावत ने वेडनसडे को गन्ना किसानों के बकाया भुगतान की मांग को लेकर विधानसभा के नजदीक उपवास रखा. इस कार्यक्रम में उन्होंने राज्य में नकली शराब की बिक्री का विरोध भी किया. इस दौरान पूर्व सीएम सहित कई वक्ताओं ने राज्य सरकार व पीएम नरेंद्र मोदी पर गन्ना किसानों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए हमला बोला.

इनके नेतृत्व में हुआ प्रोटेस्ट
हरीश रावत के नेतृत्व में इस कार्यक्रम में कई विधायकों, पूर्व विधायकों व कांग्रेसी नेताओं का जमावड़ा लगा रहा. पूर्व सीएम ने राज्य सरकार, पीएम मोदी के साथ ही हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में उन्हें बाहरी बताने वालों को भी निशाने पर रखा. धरने में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, गोविंद सिंह कुंजवाल, करन माहरा, ममता राकेश, फुरकान अहमद, मनोज रावत, हरीश धामी, आदेश चौहान, राजकुमार, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह सहित बरू़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल रहे.