राहुल को चौथी पंक्‍त‍ि न‍िर्धार‍ित थी
गणतंत्र दिवस परेड में राजपथ पर होने वाले समारोह में सीट आवंटन रक्षा मंत्रालय द्वारा होता है। इस बार भी पहले से ही राजनेताओं के बैठने की सीट तय थी। ऐसे में हमेशा पहली पंक्‍त‍ि में बैठने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इस बार चौथी पंक्‍त‍ि न‍िर्धार‍ित थी लेक‍िन बाद में उन्‍हें चौथी की बजाय छठी पंक्‍त‍ि में बैठाया गया। इससे कांग्रेसी नेता इसे अपना अपमान मानकर नाराज हो गए। राहुल गांधी के समर्थक भी इस बात का व‍िरोध कर रहे हैं।

लोकतंत्र नियम के हिसाब से चलता

इसके बाद से दोनों ही पार्टि‍यों के नेताओं के बीच जुबानी जंग जारी है। कांग्रेस इसे मोदी सरकार की ओछी राजनीति‍ का एक ह‍िस्‍सा बता रही है। वहीं बीजेपी नेता भी कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार कर रहे हैं। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव कहना है क‍ि भारत में लोकतंत्र नियम के हिसाब से चलता है न कि व्यक्ति के हिसाब से चलता है। इससे लगता है क‍ि कांग्रेस लोकतंत्र में विश्वास नहीं करती है। कांग्रेस देश को अपने ह‍िसाब से चलाना चाहती है।

छठी पंक्‍त‍ि से जल्दी निकला जा सकता
वहीं खबरों की मानें तो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल को चौथी से छठी पंक्‍त‍ि में बैठाने के पीछे मोदी सरकार नहीं स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) की खास भूम‍िका रही है। स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के सदस्‍यों ने ही अपील की थी क‍ि राहुल गांधी को छठी पंक्‍त‍ि की क‍िनारे की सीट पर बैठाया जाए। सुरक्षा के नजर‍िए से यही सीट उनके ल‍िए बेहतर होगी। अगर क‍िसी भी प्रकार की कोई घटना होती है तो चौथी की बजाय छठी पंक्‍त‍ि से जल्दी निकला जा सकता है।

फेसबुक पर प्‍यार और फ‍िर शादी करने से पहले पढ़ लें हाईकोर्ट की ये टि‍प्‍पणी

National News inextlive from India News Desk