एनओसी के बगैर हो रहा था बेगम बाजार आरओबी का निर्माण

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: बेगम बाजार-भगवतपुर रोड पर निर्माणाधीन रेलवे ओवर ब्रिज को लेकर सिस्टम पर सवाल उठने लगे हैं. 89 प्रतिशत निर्माण पूरा होने के बाद भारतीय वायु सेना द्वारा रोक लगाए जाने और निर्माण को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताए जाने के बाद हर किसी की जुबां पर सवाल है कि आखिर इतनी बड़ी गलती कैसे हो गई सरकार? करोड़ों रुपए खर्चकर आरओबी निर्माण के लिए तीन किलोमीटर लंबी अप्रोच रोड बनवा दी गई. लेकिन एयरपोर्ट के साथ ही रन-वे से केवल 500 मीटर की दूरी पर हो रहे निर्माण से पहले एनओसी नहीं लिया गया.

एनओसी अप्लाई होने में देर

नाम न बताने की शर्त पर अधिकारियों का कहना है कि इसमें कोई शक नहीं कि एनओसी के लिए अप्लाई करने में देर हुई है. एयरफोर्स से एनओसी लिए बगैर आरओबी का निर्माण कार्य कराया गया. एयरफोर्स ने आरओबी निर्माण पर आपत्ति जताते हुए मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस को अपनी रिपोर्ट भेज दी है. आरओबी निर्माण पर रोक लगाने की जानकारी रेलवे मिनिस्ट्री, यूपी गवर्नमेंट, डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन को भी ऑफिशियली दी गई है.

देर से हुई सेना को जानकारी

नाम न छापने की शर्त पर अधिकारियों का कहना है कि राज्य सेतु निगम द्वारा बेगम बाजार आरओबी के लिए अप्रोच रोड का निर्माण वायु सेना से एनओसी लिए बगैर कराया गया. जब रनवे के सामने निर्माण कार्य शुरू हुआ तो दिसंबर-जनवरी में वायु सेना को पता चला कि प्रदेश सरकार द्वारा आरओबी निर्माण के लिए एप्रोच रोड बनवाया जा रहा है. जानकारी होने पर दिसंबर-जनवरी में ही आपत्ति जताई गई थी. वायु सेना व सेना द्वारा मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस, यूपी गवर्नमेंट, मिनिस्ट्री ऑफ रेलवे, डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन को आपत्ति की रिपोर्ट भेजी जा चुकी है.

प्रदेश सरकार लेती है एनओसी

सेना की आपत्ति के बाद अप्रोच रोड बनवा रहे राज्य सेतु निगम और रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि एनओसी लेना प्रदेश सरकार का काम है. उनका काम तो बस केवल निर्माण कराना है.

डीआरएम से मिले सेना के अफसर

चीफ सेंट्रल एयर कमांडिंग ऑफिसर के साथ ही वायु सेना के अन्य अधिकारियों ने शनिवार को डीआरएम इलाहाबाद से मुलाकात कर आरओबी निर्माण से एयरपोर्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा में होने वाले खतरे से अवगत कराया था.

फैक्ट फाइल-

37.29 करोड़ रुपए है 3 किलोमीटर लंबे बेगम बाजार रेलवे ओवर ब्रिज की लागत

30 करोड़ रुपए आरओबी निर्माण पर हो चुके हैं खर्च

19 करोड़ रुपये राज्य सरकार और 18 करोड़ रुपये रेलवे द्वारा खर्च किया जा रहा इस निर्माण में

2017 सितंबर से चल रहा है इस आरओबी का निर्माण कार्य

01 साल से बेगम बाजार का मुख्य रास्ता करीब-करीब पूरी तरह से बंद

89 प्रतिशत काम बेगम बाजार आरओबी निर्माण का हो चुका है पूरा

वर्जन

बेगम बाजार आरओबी निर्माण का 89 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है. सेना की आपत्ति से पहले ही प्रदेश सरकार द्वारा एनओसी के लिए फाइल मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस को भेजी गई है. एमओडी से स्वीकृति मिलने के बाद निर्माण पूरा होगा. आरओबी से खतरा है तो उपाय किया जाएगा.

-सतीश कुमार

चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर, सेतु निगम