प्रशासनिक अफसरों व अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों की बैठक में बना समन्वय

prayagraj@inext.co.in

अखाड़ों और महामंडलेश्वर को पूरी सुरक्षा दी जाएगी. फायर बिग्रेड के कर्मचारी भी उनके कैंप के आसपास तैनात रहेंगे. यह फैसला शनिवार को मेला से जुड़े जिम्मेदार अधिकारियों और अखाड़ों के साथ महामंडलेश्वरों की बैठक में लिया गया. अफसरों ने कहा कि किसी एक की सुरक्षा के साथ हम कोई रिस्क नहीं सकते. सभी को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया करायी जाएगी. इसमें अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरी, महामंत्री हरि गिरी, पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुंभ मेला कवीन्द्र प्रताप सिंह व मेलाधिकारी विजय किरण आनन्द मौजूद रहे.

निम्न बिन्दुओं पर बनी सहमति

अग्नि सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये सभी अखाड़ो के भोजनालय के पास फायर ब्रिगेड के कर्मी अग्नि सुरक्षा उपकरण के साथ मौजूद रहेंगे.

गैर पंजीकृत अखाड़ों को मेला क्षेत्र से बाहर रखने हेतु जरूरी कदम उठाये जाएंगे

जिला प्रशासन के अधिकारीगण सभी अखाड़ों के मंत्री व महामंत्री से समन्वय बनाकर रखेंगे.

अखाड़ो के पदाधिकारीयो द्वारा गैर पंजीकृत अखाड़ो के मंत्री अथवा किसी सदस्य के आने के सम्बन्ध में शिकायत करने पर तुरन्त कार्यवाही की जायेगी.

महामंडलेश्वर/मंडलेश्वर व महन्तगणों की सुरक्षा व्यवस्था व सुविधाओं पर विशेष ध्यान दिया जायेगा.

अखाड़ो के मंत्री व महामंत्री द्वारा जिला प्रशासन को सहयोग किया जायेगा ताकि सबकुछ सुचारू रूप से चले.