सभी जिलों के डीआईओएस ने बोर्ड को भेजी मूल्यांकन केन्द्र की सूची

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं समाप्ति की ओर बढ़ रही है. ऐसे में मूल्यांकन को समय से कराने को लेकर बोर्ड की तैयारियां भी अपने फाइनल स्टेज में है. मूल्यांकन के संबंध में डीआईओएस को जानकारी देने के लिए मीटिंग का आयोजन 24 व 25 अप्रैल को किया गया है. उसके बाद उत्तर पुस्तिकाओं के भेजने की प्रक्रिया शुरू होगी.

254 सेंटर्स पर होगा मूल्यांकन

यूपी बोर्ड की परीक्षाओं के समापन के बाद उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की प्रक्रिया 27 अप्रैल से शुरू होगी. बोर्ड की ओर से 15 दिनों के अंदर मूल्यांकन कार्य पूरा करने के निर्देश दिए गए है. इस बार लगभग तीन करोड़ कापियों का मूल्यांकन किया जाना है. इसके लिए बोर्ड की ओर से एक लाख 30 हजार परीक्षकों की तैनाती की गई है. उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए प्रदेश में कुल 254 सेंटर्स बनाए गए है. अधिकारियों ने बताया कि निर्धारित समय में मूल्यांकन का कार्य पूरा कराने के लिए सभी प्रकार की व्यवस्थाएं की जाएंगी.

मूल्यांकन की व्यवस्था के लिए 24 व 25 अप्रैल को सभी जिलों के डीआईओएस की मीटिंग बुलाई गई है. मूल्यांकन को लेकर सभी तैयारियां बोर्ड के स्तर से पूरी हो चुकी है.

शैल यादव

सचिव, यूपी बोर्ड

परीक्षा में पकड़े गए 71 नकलची

यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में बुधवार को भी नकल माफियाओं पर लगाम नहीं लग सकी. बोर्ड परीक्षाओं में इंटरमीडिएट में सुबह की पाली में भूगोल व दूसरी पाली में इंग्लिश के द्वितीय पेपर था. इस दौरान सचल दल की टीमों ने पूरे प्रदेश में विभिन्न केन्द्रों से कुल 71 नकलची पकड़े. इसमें बालकों की संख्या 53 व बालिकाओं की संख्या 18 रही. बोर्ड परीक्षा का समापन 21 अप्रैल को होगा.