सर्वाधिक 34 राउंड में पूरी होगी मेरठ दक्षिण विधानसभा की काउंटिंग

MEERUT : 23 मई को 4 लोकसभा सीटों के लिए मेरठ जनपद की 7 विधानसभा क्षेत्रों की काउंटिंग प्रक्रिया प्रात: 8 बजे से आरंभ होगी। परतापुर स्थित कताई मिल में कड़ी सुरक्षा और व्यवस्था के बीच काउंटिंग प्रक्रिया संपन्न होगी जिसको लेकर डीएम अनिल ढींगरा के नेतृत्व में फुलप्रूफ प्लानिंग तैयार की गई है। मंगलवार शाम कलक्ट्रेट स्थित बचत भवन सभागार में डीएम अनिल ढींगरा ने आयोजित प्रेसवार्ता में मतगणना संबंधी जानकारी दी।

14-14 टेबल हर विधानसभा में होंगी

1-1 टेबल हर विधानसभा में सहायक रिटर्निग अधिकारी की रहेगी।

15 टेबल पर एक हॉल में होगी काउंटिंग।

4 कर्मचारी तैनात रहेंगे एक टेबल पर

1 माइक्रो पर्यवेक्षक

1 मतगणना पर्यवेक्षक

1 मतगणना सहायक

1 मतगणना सहायक (चतुर्थ श्रेणी)

11 अप्रैल को हुआ था मतदान

7 विधानसभा मेरठ जनपद में

2740 बूथों पर हुआ था मतदान

2007 पोलिंग बूथ थे मेरठ-हापुड़ लोकसभा क्षेत्र में

राउंड में होगी गणना

डीएम ने बताया कि जनपद की सभी विधानसभा क्षेत्रों की गणना राउंड में होगी।

विधानसभा राउंड

सिवालखास 27

सरधना 27

हस्तिनापुर 27

किठौर 28

मेरठ कैंट 31

मेरठ 24

मेरठ दक्षिण 34

---

11 टेबल पर ईटीपीबीएस के तहत प्राप्त वोट्स की गिनती होगी

33 कर्मचारी इस कार्य के लिए तैनात किए जा रहे हैं

11 माइक्रो प्रेक्षक

11 मतगणना पर्यवेक्षक

11 मतगणना सहायक

5 टेबल पर डाक से प्राप्त मतपत्रों की गिनती होगी।

1 टेबल रिटर्निग अधिकारी की होगी।

हर विधानसभा की 5-5 वीवीपैट मशीनों को रैण्डमली सेलेक्ट कर उसकी पर्चियों को काउंट किया जाएगा।

पहली बार आयोग की वेबसाइड से मतगणना की राउंडवार जानकारी ले सकेंगे।

---

राजनैतिक दलों के साथ की बैठक

प्रेसवार्ता से पूर्व डीएम ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल पर प्रात: 7 बजे प्रत्याशी व उनके निर्वाचन अभिकर्ताओं की उपस्थिति में स्ट्रांग रूम को खोला जाएगा। जिसके बाद प्रात: 8 बजे से मतगणना शुरू होगी। डाक मतपत्रों को ट्रेजरी में सुरक्षित रखा गया है, जिनको 23 मई की प्रात: सुरक्षाबलों एवं पार्टी प्रतिनिधियों के साथ मतगणना स्थल पर पहुंचाया जाएगा।

---------

शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की नजर

लोकसभा चुनाव के परिणाम के बाद स्थिति नियंत्रित रहें। शहर की फिजां खराब न हो इसको लेकर पुलिस चिंतित है वहीं एसएसपी नितिन तिवारी की अगुवाई में एक सिक्योरिटी को लेकर एक फुलप्रूफ प्लान तैयार कर लिया गया है। 23 मई को काउंटिंग के दौरान काउंटिंग सेंटर पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की गई है तो वहीं शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की नजर रहेगी।

स्ट्रांग रूम और काउंटिंग पांडाल में सेंट्रल पैरा मिलिट्री फोर्स (सीपीएमएफ) का सुरक्षा घेरा मुस्तैद रहेगा।

दूसरा सुरक्षा घेरा परिसर के गिर्द और अंदर होगा। इसमें पीएसी के अलावा स्टेट पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात होगी।

तीसरे और अंतिम सुरक्षा घेरा परिसर के बाहर और काउंटिंग स्थल के 200 मीटर परिधि तक तैनात रहेगा। यहां यूपी पुलिस के जवान तैनात होंगे।

चप्पे-चप्पे पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरों को परिसर, पार्किंग आदि स्थलों पर लगाया गया है।

चुनाव परिणाम की संवेदनशीलता को देखते हुए शहर के मिश्रित इलाकों में सीपीएमएफ की तैनाती की है।

जनपद में 23 मई को करीब 4 बटालियन सेंट्रल और स्टेट पैरा मिलिट्री फोर्सेस तैनात की जा रही है।

शहर के 10 थानाक्षेत्रों को अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखते हुए यहां लोकल पुलिस के साथ-साथ पैरा मिलिट्री की तैनात की गई है।