-डीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ किया कताई मिल स्थित मतगणना स्थल का निरीक्षण

MEERUT : सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में मतगणना होगी। किसी भी विधानसभा की ईवीएम दूसरी विधानसभा के पांडाल में नहीं पहुंचेगी। स्ट्रांग रूम से काउंटिंग स्थल तक कड़ी सुरक्षा के बीच ईवीएम को पहुंचाया जाएगा। मतगणना कर्मियों, अधिकारियों के अलावा अधिकृत व्यक्तियों का प्रवेश ही मतगणना स्थल पर होगा। सोमवार को पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों के साथ डीएम बी। चंद्रकला में परतापुर स्थित कताई मिल का निरीक्षण करते हुए निर्देश दिए।

कराई जाएगी वीडियोग्राफी

डीएम एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने सोमवार को अधिकारियों को निर्देश दिए कि विधानसभा निर्वाचन 2017 की मतगणना के लिए सभी व्यवस्थाएं आयोग द्वारा निर्धारित मानकों के अनुरूप समय से पूर्ण कराएं। ईवीएम की सुरक्षा सम्बंधी कार्यो में किसी भी प्रकार की कोई चूक बर्दाशत नहीं की जाएगी, उन्होंने कहा कि जिन अधिकारियों की ड्यूटी ईवीएम सुरक्षा में लगायी गयी है वह समय से अपने दायित्वों का सही से निर्वहन करें। मतगणना स्थल पर मतगणना सम्बंधी प्रत्येक कार्य की वीडियोग्राफी कराने के निर्देश डीएम ने दिए।

नहीं होगा अनाधिकृत प्रवेश

प्रत्येक विधानसभा के मतगणना पंडाल व मतगणना स्थल के प्रवेशद्वार पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। हर गतिविधि पर कड़ी नजर रहेगी। चिकित्सा टीम के साथ दो एम्बुलेंस तथा चिकित्सा सम्बंधी सुविधा मौके पर मौजूद रहेंगी। डीएम ने बताया कि मीडिया प्रतिनिधियों के लिए एक मीडिया पंडाल बनाया गया है। मतगणना हॉल में आने व जाने के लिये दो गेट बनाए जाएंगे। एक गेट से प्रेक्षक, सरकारी अधिकारी व कर्मचारी तथा दूसरे गेट से राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि आ सकेगे।