- सिलेंडर रिसने से लगी आग, भाग गई फैमिली

GORAKHPUR: बेलीपार एरिया के हरैया में पटाखा फैक्ट्री में आग लग गई. ट्यूज्डे दोपहर करीब दो बजे हुई घटना में फैक्ट्री मालिक का बेटा झुलस गया. उपचार के लिए उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया. घटना की सूचना पर पुलिस-प्रशासन के अफसर मौके पर पहुंचे. आग काबू करने के लिए दमकल की तीन गाडि़यां बुलाई गई.

पांच साल से चल रही फैक्ट्री

राजघाट एरिया के तुर्कमानपुर मोहल्ला निवासी जाकिर ने पांच साल पहले पटाखा फैक्ट्री खोली. बेलीपार एरिया के हरैया में सरफुद्दीन के तीन कमरे का मकान उसने किराये पर ले लिया. एक कमरे में जाकिर, उसकी पत्‍‌नी यास्मीन और दो बेटों अमन और इमरान रहते थे. दूसरे कमरे में पटाखा बनाने का काम करते थे. ट्यूज्डे दोपहर करीब दो बजे अचानक पटाखा फैक्ट्री में आग लग गई. लोगों ने आग में घिरे अमन को बाहर निकालकर डिस्ट्रिक्ट हास्पिटल पहुंचाया.

आग लगने की वजह अलग-अलग

पटाखा फैक्ट्री में आग लगने के बाद जाकिर की फैमिली टेंपो में सवार होकर गोरखपुर आ गई. हालत गंभीर होने से अमन को मेडिकल कालेज पहुंचाया गया. अमन ने डॉक्टर्स को बताया कि वह कूकर में हलवा पका रहा था. कूकर फटने से आग लग गई. उधर उसके घरवालों ने सिलेंडर का रिसाव होने पर आग लगने की बात बताई. पुलिस-प्रशासन के अफसरों के पहुंचने पर पब्लिक ने आपत्ति जताई. लोगों ने कहा कि शिकायत के बाद भी पटाखा फैक्ट्री आबादी में चल रही थी.

पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से एक युवक झुलस गया. उसको मेडिकल कालेज में एडमिट कराया गया है. आग लगने की जांच की जा रही है.

बृजेश कुमार यादव, एसओ बेलीपार