-जर्जर भवनों में काम कर रही बनारस पुलिस को जल्द मिलेगी राहत

-तीन साल पहले कंडम घोषित हो चुके 19 थानों का हाल सुधारने की होगी पहल

जर्जर भवनों और सीलन भरे कमरों में काम कर रही बनारस पुलिस को जल्द ही राहत मिलने वाली है. अनुपूरक बजट में योगी सरकार ने पुलिस विभाग को 957 करोड़ रुपये दिए हैं. इसमें से वाराणसी पुलिस को लगभग 30 करोड़ रुपये दिए गए हैं. इस धनराशि से अपने शहर के पुलिस के भवनों का हाल सुधारने की पहल की जाएगी.

19 थाने हो चुके हैं निष्प्रयोज्य

वर्षो से जर्जर पड़े बनारस के 25 थानों में तीन साल पहले तक 19 थाने कंडम यानी निष्प्रयोज्य घोषित किए जा चुके हैं. फूलपुर थाने का पूरा भवन ही जर्जर हो चुका है तो तमाम थानों के कुछ हिस्से बेकार हो चुके हैं. थानों के भवनों की मरम्मत और निर्माण के लिए कई बार लेटर भेजा गया है. मगर शासन की तरफ से इस पर कोई प्रभावी पहल नहीं की जा सकी थी.

नाकाफी है रखरखाव का बजट

थानों की मरम्मत के लिए हर साल इलाहाबाद पुलिस मुख्यालय से सीधे थानों को बजट दिया जाता है. मगर निर्माण के लिहाज से यह नाकाफी होता है. इस बजट में थानों में रंगरोगन या छोटी-मोटी टूट-फूट की मरम्मत से ज्यादा कुछ नहीं हो पाता. एडीजी जोन पीवी रामाशास्त्री और नये एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने इसके लिए कई बार मुख्यालय को पत्र लिखा. मांग की गई थी कि थानों के नए भवन के निर्माण के लिए बजट दिया जाए.

अब बदलेगा थानों का कलेवर

30 करोड़ के बजट से थानों का कलेवर बदलने के साथ ही वाराणसी पुलिस को संसाधनों से भी लैस किया जाएगा. एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि थानों के बाहर धार्मिक और ऐतिहासिक चित्र उकेरने का काम शुरू हो चुका है तो थानों की बाउंड्री भी ऊंची कराई जाएगी. थानों के अलावा शहर की तमाम पुलिस चौकियों की हालत भी बेहद खस्ता है. इनमें आदमपुर, हनुमान फाटक, दुर्गाकुंड, रामेश्वर समेत दो दर्जन से ज्यादा पुलिस चौकियां शामिल हैं.

100 साल पुराने हैं थानों के भवन

जिले के कई थानों के भवन ऐतिहासिक महत्व के हैं. इनमें कोतवाली, चौक, आदमपुर, चेतगंज, भेलूपुर आदि थानों के भवन 50 से 100 साल तक पुराने हैं. इनकी हालत बेहद खराब है. चेतगंज थाने का बारजा गिरा हुआ है, बरसात में मंडुवाडीह थाने के कार्यालय की छत टपकती है. जून महीने में रोहनिया थाने के ऑफिस में रात के वक्त पटिया गिर गई. ऐसे ही मिर्जामुराद थाने में हवालात का इस्तेमाल बंद कर दिया गया है.

एक नजर

25

थाने हैं वाराणसी जिले में

16

थाने शहरी क्षेत्र में

9

थाने देहात क्षेत्र में

19

थानों का भवन घोषित हो चुका है निष्प्रयोज्य

120

पुलिस चौकियों में ज्यादातर की हालत खराब

वर्जन--

जिले के कुछ थानों के भवन काफी पुराने हैं. इनके ऐतिहासिक महत्व को बचाते हुए जर्जर हो चुके हिस्सों का मरम्मत और पुनर्निर्माण का काम शुरू कराया जाएगा.

आनंद कुलकर्णी, एसएसपी वाराणसी