-दो महीने पहले मां के एक्सीडेंट का बहना बनाकर किया था अगवा

-आईजी से शिकायत के 20 दिन बाद नाबालिग को उसके घर छोड़ा

bareilly@inext.co.in

BAREILLY : योगी राज में भी घर की बेटी-बहू सुरक्षित नहीं है. इज्जतनगर में किराए पर बच्चों के साथ रहने वाली एक महिला की नाबालिग बेटी को अगवा कर दुष्‍कर्म किया गया. आईजी से शिकायत के बीस दिन बाद किशोरी को घर छोड़ा गया. शिकायत पर पुलिस ने बदनामी का डर दिखाकर एफआईआर की बजाय थाने लौटा दिया. महिला न्याय के लिए भटकती रही, कि दस दिन पहले आरोपी फिर उसके घर घुस गया. इस बार उसकी बेटी नहीं बल्कि महिला से ही दुष्‍कर्म का प्रयास किया. शोर मचाने पर आसपास के लोग आए तो आरोपित धमकी देकर भाग निकला. पीडि़ता ने ट्यूजडे को एसएसपी ऑफिस में शिकायत के साथ ही मुख्यमंत्री और एडीजी को भी कार्रवाई के लिए शिकायती पत्र भेजा है.

किराए पर रहती है महिला

बारादरी निवासी महिला ने बताया कि पति से विवाद के बाद वह दो बच्चों के साथ इज्जतनगर में किराए पर रहती है. 6 जुलाई को वह सब्जी लेने गई थी. इसी दौरान रसीद खां नाम का युवक पहुंचा और उसके एक्सीडेंट में घायल होने की बात कहकर नाबालिग बेटी को अपने साथ ले जाकर अगवा कर लिया था. इस दौरान बेटी को कमरे में बंधक बनाकर 20 दिन दुष्‍कर्म किया गया था. आईजी से शिकायत के बाद जब एसएसपी को कार्रवाई के लिए कहा गया, तो पुलिस ने दबाव डलवाकर किशोरी को घर भिजवाया था. पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया उल्टा आरोपित ने उसके बेटे को अगवा कर हत्या की धमकी देते हुए अपने पक्ष में हलफनामा बनवाकर पुलिस को सौंप दिया. आज तक उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई. अब आरोपित ने उससे भी दुष्‍कर्म का प्रयास किया. विरोध पर फिर से बेटी को उठा ले जाने की धमकी दी है.