- दुष्‍कर्म के आरोप में किशोर को पुलिस ने भेजा था बाल सुधार गृह

-केयर टेकर और होमगार्ड लेकर आए थे दवा दिलाने पानी पीने के बहाने भागा

bareilly@inext.co.in

BAREILLY : बाल सुधार गृह से दवा दिलाने के लिए लाया गया दुष्‍कर्म का आरोपी डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल से भाग निकला. उसे भागता देख बाल सुधार गृह के केयर टेकर दौड़ कर उसे पकड़ लिया और शोर कर दूसरे लोगों से मदद मांगी. शोर सुनकर एक महिला कॉन्स्टेबल और होमगार्ड भी मौके पर पहुंच गए और आरोपी को पकड़ कर हॉस्पिटल में एडमिट कराया, जिसके बाद केयर टेकर ने बाल सुधार गृह के अफसरों को सूचना देकर राहत की सांस ली.

पॉक्सो में आया सुधार गृह

फरीदपुर के गांव करनपुर निवासी 16 वर्षीय किशोर ने बताया कि वह हाईस्कूल का छात्र है. उसने पड़ोस के गांव की एक किशोरी से दुष्‍कर्म किया था, जिस मामले में पुलिस ने उसे पकड़ लिया था और उससे पॉक्सो में मामला दर्ज कर बाल सुधार गृह आठ दिन पहले भेज दिया.

रात को आया था बुखार

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल आरोपी को लेकर पहुंचे केयर चेतराम और होमगार्ड उस्मान ने बताया कि किशोर को रात बुखार आ गया था, जिससे वह दोनों दवा दिलाने के लिए हॉस्पिटल आए थे. चेतराम आरोपी को इमरजेंसी में बेड पर बैठाने के बाद डॉक्टर को रूम में बुलाने के लिए गए थे आरोपी के पास होमगार्ड मौजूद था. इसी बीच आरोपी ने होमगार्ड को पानी पीने का चकमा दिया और इमरजेंसी से बाहर निकलते ही भागने की कोशिश की तब तक चेतराम की नजर पड़ गई. चेतराम ने किशोर को दौड़ाकर पकड़ लिया, और चीखा कि मेरी नौकरी चली जाएगी पकड़ो यह अपराधी है इसे पकड़ो. आरोपी ने केयर टेकर को पैर मारना शुरू कर दिया तो केयर टेकर ने उसकी पेंट पकड़ ली. तभी भागने के लिए आरोपी ने पेंट खोल दी और भागने की कोशिश की लेकिन केयर टेकर ने उसके पैर पकड़ लिए. शोर सुनते ही मौके पर मौजूद अन्य लोगों आरोपी को पकड़ लिया.