- जिले में चोरी का सामान खरीदने वालों पर कसने लगा शिकंजा

- सहजनवां में पकड़ा गया शातिर चोर, सात मोबाइल फोन बरामद

GORAKHPUR@inext.co.in
GORAKHPUR : चोरी का सामान औने-पौने दाम पर खरीदकर मुनाफा करने वाले दुकानदारों के खिलाफ पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। चोरी का मोबाइल चुराकर सस्ते में बेचने के आरोपी और दुकानदार को क्राइम ब्रांच की टीम ने अरेस्ट किया। पकड़े गए युवकों के पास से चोरी के सात मोबाइल फोन बरामद हुए। सीओ प्रवीण सिंह ने बताया कि एक अभियान चलाकर ऐसे लोगों पर शिकंजा कसा जाएगा जो चोरी का सामान खरीदते हैं।

पांच से छह हजार में खरीदते मोबाइल
27 मई को सहजनवां, गीडा में एक इंस्टीट्यूट के पास से स्कूटर की डिग्गी तोड़कर चोरों ने तीन मोबाइल गायब कर दिया। शिकायत सामने आने पर सर्विलांस के जरिए क्राइम ब्रांच की टीम छानबीन में जुट गई। सहजनवां पुलिस की मदद से गुरुवार को पुलिस ने मोबाइल चोरी के आरोपित को दबोच लिया। उसकी पहचान सहजनवां, पुंडा निवासी अंकित भट्ट के रूप में हुई। उसने पुलिस को बताया कि चोरी का मोबाइल घघसरा बाजार के दुकानदार राम प्रकाश शुक्ला को बेच दिया था। पुलिस ने जब दुकानदार को पकड़ा तो उसके काउंटर में रखे चोरी के सात मोबाइल फोन बरामद हुए। पूछताछ में पता लगा कि चोरी का मोबाइल वह लोग पांच से छह हजार में खरीदकर उसे 8 से 10 हजार रुपए में आराम से बेच देते हैं।

चोरी का सामान खरीदने वालों पर कसेगा शिकंजा
शहर से लेकर देहात तक चोरी का सामान खरीदने वाले पुलिस के राडार पर हैं। ज्वेलरी कारोबारियों के अलावा मोबाइल फोन सहित अन्य चोरी के सामान खरीदने के मामले में पुलिस का शिकंजा कसने लगा है। लूट, छिनैती और चोरी के मोबाइल फोन और सामान खुलेआम बाजार में बिक जाते हैं। इसलिए बदमाशों के लिए इससे मुफीद कोई बिजनेस नहीं होता। कुछ दिनों पूर्व पुलिस ने योजना बनाई थी कि चोरी का सामान खरीदने वालों को जेल भेजा जाए। इसलिए पुलिस कारोबारियों पर शिकंजा कसने में लगी है। इसलिए पुलिस इसका व्यापक प्रचार करने में जुटी है।

दुकानदारों को यह हिदायत दे रही पुलिस

चोरी का कोई सामान खरीदने की सूचना पर दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई होगी।

चोरी का माल बरामद होने पर चोरी के सामान के साथ पकड़े जाने की एफआईआर होगी।

कोई पुराना मोबाइल फोन, ज्वेलरी खरीदने के पूर्व उसकी रसीद इत्यादि की पूरी जांच कर लें।

सामान खरीदने के दौरान बेचने वाले के बारे में पूरी जानकारी मोबाइल नंबर सहित दर्ज करें।

यदि किसी गैंग या व्यक्ति के खिलाफ कोई सूचना मिले तो उसके बारे में पुलिस को जानकारी दें।

चोरी का मोबाइल फोन खरीदने वाले दुकानदार सहित दो लोगों को अरेस्ट किया गया है। चोरी, छिनैती के मंहगे मोबाइल फोन को सस्ते में लेकर दुकानदार बेच देते हैं। चोरी का सामान खरीदने और बेचने के मामले में कार्रवाई की जाएगी।

- प्रवीण कुमार सिंह, सीओ क्राइम ब्रांच